Mahakal Temple Ujjain: नईदुनिया, उज्जैन। ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर में महिला दर्शनार्थी के फिल्मी गाने पर डांस का वीडियो वायरल हुआ है। मंदिर की गरिमा व धार्मिक मर्यादा को ठेस पहुंचाते इस वीडियो के सामने आने के बाद मंदिर प्रशासन जांच में जुट गया है। मंदिर प्रशासन के अनुसार महिला को नोटिस जारी किया जाएगा। मंदिर के सहायक प्रशासक मूलचंद जूनवाल ने बताया कि महाकाल दर्शन करने आई महिला ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर वीडियो अपलोड किया था। इसमें वह मंदिर परिसर में फिल्मी गाने पर नृत्य करती दिखाई दे रही है। इसके बाद महिला ने एक और वीडियो जारी कर माफी मांगी है।

महाकाल मंदिर में फिल्मी गाने पर नृत्य करने वाली युवती ने वीडियो जारी कर माफी मांगी है। सहायक प्रशासक मूलचंद जूनवाल ने बताया कि युवती इंदौर की रहने वाली है। उन्होंने इस घटना के लिए माफी मांग ली है।

मंदिर प्रशासन के अनुसार वीडियो में युवती यह कहते हुए दिखाई दे रही है कि उनका इरादा किसी की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाना नहीं थी। अगर उनके इस कृत्य से पंडे, पुजारी,धार्मिक अथवा राजनीतिक संगठनों को किसी भी प्रकार से ठेस पहुंची है, तो वे इसके लिए माफी मांगती हैं। बताया जाता है युवती के स्वयं ही माफी मांग लेने के बाद मंदिर प्रशासन ने अपनी आगे की कार्रवाई स्थगित कर दी है। अधिकारियों का कहना है कि भक्तों को मंदिर की मार्यादा व धार्मिकता का स्वयं ध्यान रखना चाहिए। इस घटना से लोगों को प्रेरणा मिलेगी और वें धर्मपरंपराओं का ध्यान रखेंगे।

परिसर में विभिन्न स्थानों पर लगे वीडियो फुटेज खंगाले गए हैं। नृत्य करने की पुष्टि होने पर धार्मिक मर्यादा के उल्लंघन मामले में नोटिस जारी करने का निर्णय लिया था।

चार नंबर गेट से आम भक्त, पांच से सशुल्क दर्शनार्थियों का प्रवेश, दर्शन व्यवस्था में बदलाव

ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर में निर्माण कार्य के चलते दर्शन व्यवस्था में बदलाव किया गया है। मंदिर प्रशासन के अनुसार रविवार से सामान्य दर्शनार्थियों को चार नंबर गेट से मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा। 250 रुपये के शीघ्र दर्शन टिकट तथा 100 रुपये के प्रोटोकाल दर्शन टिकटधारी भक्तों को पांच नंबर गेट से प्रवेश मिलेगा।

महाकाल दर्शन के बाद सभी श्रद्धालु निर्गम गेट के समीप देवास धर्मशाला के मार्ग से बाहर निकलेंगे। पीआरओ गौरी जोशी ने बताया कि चार नंबर गेट से प्रवेश करने के बाद दर्शनार्थियों को विश्राम धाम के रैंप से मार्बल गलियारा में लाया जाएगा।

यहां से श्रद्धालु छह नंबर गेट की ओर जाएंगे तथा परिसर में महानिर्वाणी अखाड़े के पुराने भवन के सामने से कार्तिकेय मंडप में होते हुए गणेश मंडपम से भगवान महाकाल के दर्शन करेंगे। इसके पश्चात नंदी हाल के रैंप से परिसर में आकर वर्तमान निर्गम गेट के पास सुलभ शौचालय के नजदीक देवास धर्मशाला के पास स्थित गेट से मंदिर के बाहर निकलेंगे।

सशुल्क दर्शनार्थी पांच नगर गेट से प्रवेश कर विश्राम धाम की सीढ़ी से उतरकर परिसर में आएंगे, इसके बाद कोटितीर्थ कुंड के समीप से होकर गणेश मंडप से भगवान महाकाल के दर्शन करेंगे। इन दर्शनार्थियों के लिए निर्गम की व्यवस्था समान्य दर्शनार्थियों के समान रहेगी। नई व्यवस्था अस्थाई रूप से कुछ समय के लिए की जा रही है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local