उज्जैन-रुनिजा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। गांव खेड़ावदा में शनिवार सुबह से लापता 13 वर्षीय बालिका का शव शाम को घर की दूसरी मंजिल पर बोरे में मिला। हत्या का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है। पुलिस ने आशंका जाहिर है कि लड़की के साथ पहले दुष्कर्म हुआ, फिर उसकी हत्या की गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। लड़की के गले में निशान मिले हैं। रिपोर्ट आने के बाद स्थिति साफ होगी।

भाटपचलाना टीआइ संजय वर्मा ने बताया कि शनिवार को बालिका के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। इस पर खोजबीन शुरू कर दी। स्वजन भी अपने स्तर पर खोजते रहे। इस बीच घर में ही दूसरी मंजिल पर अनाज के बोरे में लड़की का शव दिखा।

पुलिस ने रात में ही शव बरामद कर जांच शुरू कर दी। इसी कमरे में अनाज के बोरों का भंडारण किया जाता है। गले में निशान भी मिले तथा वह अर्द्धनग्न अवस्था में मिली। पुलिस को संदेह है कि पहले उसके साथ दुष्कर्म किया गया, फिर उसकी हत्या की गई। रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी। पुलिस के अनुसार यह कार्य किसी परिचित का लग रहा है।

नाना-नानी के घर कर रही थी पढ़ाई

बालिका रतलाम की निवासी है तथा वह नाना-नानी के यहां रहकर पढ़ाई कर रही है। माता-पिता रतलाम में ही रहते हैं। आरोपित को संभवत: यह पता है कि नाना प्रतिदिन प्रात: चाय पीने के बाद गांव की चौपाल पर चले जाते हैं और नानी भी मंदिर में दर्शन के लिए चली जाती है। इस दौरान सुबह लगभग एक घंटे तक घर में कोई नहीं रहता है। लड़की सुबह 10.30 बजे से ही लापता थी। नाना-नानी जब घर लौटे तो लड़की नहीं मिली। दिनभर तलाश करने के बाद शाम को रिपोर्ट दर्ज कराई गई।

खरोंच के निशान

टीआई संजय वर्मा ने बताया कि बालिका की लाश मिलने के साथ ही जांच शुरू कर दी है। स्थिति देखकर लग रहा है कि पहले उसके साथ दुष्कर्म किया गया। गले और शरीर में खरोंच व संघर्ष के निशान भी मिले हैं। स्वजन से पूछताछ भी की गई। अन्य लोगों को भी थाने बुलाया गया है। एफएसएल अधिकारी प्रीति गायकवाड़ के अनुसार मेडिकल जांच के लिए सिमन स्लाइड सुरक्षित कर ली गई है। पोस्टमार्टम के पश्चात रविवार को शव स्वजन के सुपुर्द कर दिया गया। गांव में ही अंतिम संस्कार किया गया।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close