उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंगोरिया थाना क्षेत्र के ग्राम नरसिंगा में मंगलवार को हुई महिला की हत्या के बाद से गायब देवर का शव गुरुवार को गांव के समीप स्थित चंबल नदी में मिला है। पुलिस के अनुसार शव 24 घंटे पुराना है। आशंका है कि भाभी की हत्या के बाद आत्म ग्लानी में देवर ने नदी में कूदकर खुदकुशी कर ली। पुलिस को मृतका के हाथों में बाल मिले थे। बालों का पुलिस देवर के बाल से डीएनए मिलान करवाएगी। इससे स्पष्ट होगा कि देवर ने भाभी की हत्या की थी या नहीं।

टीआइ पृथ्वीसिंह खलाटे ने बताया कि ग्राम नरसिंगा में रहने वाली माया पत्नी संतोष उम्र 40 वर्ष की उसके घर में अज्ञात व्यक्ति ने गला रेतकर हत्या कर दी थी। हत्या के बाद से ही मृतका का देवर मुकेश गायब था। गुरुवार को पुलिस को मुकेश का शव गांव के बाहर चंबल नदी में शव मिला। बताया जा रहा है कि शव 24 घंटे पुराना है। पुलिस को आशंका है कि मुकेश ने अपनी भाभी की हत्या कर आत्म ग्लानी में नदी में कूदकर खुदकुशी कर ली। फिलहाल शव का पोस्टमार्टम करवाया गया है। पुलिस को मृतका के हाथ में बाल मिले थे। जिनका डीएनए मिलान मृतक मुकेश के बालों से करवाया जाएगा।

यह था पूरा मामला

मंगलवार दोपहर इंगोरिया थाना क्षेत्र के ग्राम नरसिंगा में माया बाई का शव उसके घर में रक्त रंजित शव पड़ा मिला था। महिला का सौतेला पुत्र अभिषेक चार बजे स्कूल से घर लौटा तो मां का शव देखकर स्वजन व पुलिस को सूचना दी। जांच में पुलिस को पता चला है कि हत्या के दौरान मृतका का देवर मुकेश ही घर पर मौजूद था। हत्या के बाद से ही वह गायब हो गया था। मृतका का पति हत्या के दौरान गुजरात में पावागढ़ माता के दर्शन करने के लिए गया था।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local