- महिला और उसके डेढ़ वर्षीय पुत्र की रस्सी से गला घोटकर की गई थी हत्या

- पुलिस महिला के पति से पूछताछ में जुटी

उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बड़नगर के ग्राम जलोदिया में सोमवार रात को एक महिला व उसके डेढ़ वर्षीय पुत्र की रस्सी से गला घोटकर हत्या कर दी गई थी। मामले के पर्दाफाश की मांग को लेकर महिला के स्वजन ने जमकर हंगामा किया और शवों का अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया। पुलिसकर्मियों ने लोगों को समझाइश दी, इसके बाद स्वजन अंतिम संस्कार के लिए राजी हुए। पुलिस का कहना है कि मृतका के पति से पूछताछ की जा रही है। जल्द ही मामले का पर्दाफाश कर दिया जाएगा।

बता दें कि बड़नगर के ग्राम जलोदिया निवासी देवाजी मंगलवार सुबह खेत में हाथ-पैर बंधी हुई अवस्था में मिला था। देवाजी ने पुलिस को बताया था कि चार-पांच लोग सोमवार रात को करीब एक बजे दरवाजा खटखटाकर उसके घर में घुसे थे। इसके बाद उसकी पत्नी संगीता बाई और उसके डेढ़ वर्षीय पुत्र मनोज की रस्सी से गला घोटकर हत्या कर दी और उसके हाथ-पैर बांधकर मारपीट की थी। उसने मरने का नाटक किया तो वह उसे मरा समझकर खेत में पटककर चले गए थे। पुलिस को पति पर शंका है। उसका रतलाम के ग्राम बांजना निवासी महिला से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों अहमदाबाद चले गए थे। वहां से लौटने पर उसे महिला के परिवार के लोगों को दो लाख रुपये देना पड़े थे। पुलिस पति से पूछताछ में जुटी है।

थाना प्रभारी मनीष मिश्र ने बताया मंगलवार को ही पुलिस ने मां-बेटे के शवों का पोस्टमार्टम करवाकर स्वजन को सौंप दिया था। मगर स्वजन हत्या का पर्दाफाश करने की मांग पर अड़ गए। स्वजन ने दोनों शवों का अंतिम संस्कार नहीं किया, बुधवार को भी वह अपनी मांग पर अड़े हुए थे। जिस पर पुलिस ने उन्हें समझाइश दी। इसके बाद दोनों शवों का ग्राम बांजना में अंतिम संस्कार किया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close