उज्जैन(नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना संक्रमित होम आइसोलेशन मरीज घरों के बाहर घूम रहे हैं। पुलिस की टीम जांच करने पहुंची तो मरीज घर पर नहीं मिले थे। इस पर उनके खिलाफ कलेक्टर के आदेश का उल्लघंन करने की धारा 188 तथा महामारी अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया। पुलिस ने तीन दिनों में तीन सौ से अधिक मरीजों के घर जाकर जांच की है। माधवनगर, जीवाजीगंज, कोतवाली व नानाखेड़ा अनुभाग की टीमें मरीजों की जांच कर रही है। ऐसे लोगों की जानकारी जुटाई जा रही है। अफसरों ने स्पष्ट किया है कि सभी को नियमों का पालन करना है। उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

एएसपी अमरेंद्रसिंह ने बताया कि कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। जिले में 1600 से अधिक ऐसे मरीज हैं जिन्हें लक्षण नहीं होने के कारण होम क्वारंटाइन किया गया है। ऐसे मरीजों को घर पर ही आइसोलेट रहकर अपना उपचार करवाना है। मगर लगातार शिकायतें मिल रही है कि कुछ मरीज घरों से बाहर निकलकर घूम रहे हैं। इससे अन्य लोगों के संक्रमित होने का खतरा है। अब इस पर रोक लगाने के लिए होम क्वारंटाइन मरीजों को रोजाना घर-घर जाकर पुलिस टीम चेक कर रही है। इसके लिए चार अनुभाग जीवाजीगंज, माधवनगर, कोतवाली तथा नानाखेड़ा अनुभाग के सीएसपी के नेतृत्व में चार टीमें बनाई गई है। अब तक तीन सौ से अधिक मरीजों को चेक किया गया है। एक दर्जन मरीज अपने घरों पर नहीं मिले है। इस पर उनके खिलाफ कलेक्टर के आदेश का उल्लघंन करने की धारा 188 तथा महामारी अधिनियम के तहत केस दर्ज किए गए हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags