खाना जांचने के लिए लगाई आठ फूड इंस्पेक्टर व डाक्टरों की टीम

उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द उज्जैन में सुबह 9.30 बजे से शाम करीब पांच बजे तक रहेंगे। यहां राष्ट्रपति भोजन भी करेंगे। वे मालवा का प्रसिद्ध भोजन दाल-बाफला, लड्डू भी चखेंगे।

अधिकारियों का कहना है कि खाना बनाने के लिए राष्ट्रपति भवन से दो कुक उज्जैन आएंगे। पूरा भोजन उनकी निगरानी में तैयार होगा। उन्हें कम मिर्च मसालों का भोजन पसंद है। मालवा का प्रसिद्ध व पारंपरिक भोजन दाल-बाफला तथा लड्डू भी राष्ट्रपति के मेन्यू में शामिल किया गया है। खाने की जांच करने के लिए आठ फूड इंस्पेक्टरों की ड्यूटी लगाई गई है। चार उज्जैन के तथा चार अन्य जिलों से बुलाए गए हैं।

परोसने से पहले चखेंगे खाना

राष्ट्रपति का भोजन पहले फूड इंस्पेक्टर व डाक्टर की टीम चखेगी, गड़बड़ी नहीं होने पर ही राष्ट्रपति को परोसा जाएगा। इसके बाद भी खाने के सैंपलों को सुरक्षित रखा जाएगा, जिनकी बाद में लैब में जांच करवाई जाएगी। पीने के पानी तक की जांच की जा रही है।

चार जगहों पर तैनात रहेगी टीम

- राष्ट्रपति के आगमन के दौरान हेलीपेड पर चाय, पानी की व्यवस्था है। जहां जांच के लिए फूड इंस्पेक्टर व डाक्टर की टीम मौजूद रहेगी।

- एक टीम सर्किट हाउस पर तैनात रहेगी, जहां खाना तैयार होने से लेकर उसे परोसने तक अधिकारियों की निगरानी में होगा। यहां भी दो फूड इंस्पेक्टरों व डाक्टरों की टीम टेस्टिंग के लिए मौजूद रहेगी।

- कालिदास अकादमी में मुख्य आयोजन के दौरान राष्ट्रपति को चाय, हल्का नाश्ता तथा पानी परोसा जाएगा। अकादमी में पहले से ही जांच के बाद ओके किए गए खाद्य पदार्थ व पानी को परोसा जाएगा।

- महाकाल मंदिर में महंत विनित गिरी के आश्रम में राष्ट्रपति व उनके साथ आने वाले लोगों के लिए फल तथा नाश्ते की व्यवस्था की जा रही है। जिसे भी निगरानी के बाद ही परोसा जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close