धीरज गोमे. उज्जैन

खाने में स्वाद का जायका बढ़ाने वाला उज्जैन का प्याज कुछ हफ्तों बाद देशभर की रिटेलर शाप पर पेस्ट और पावडर के रूप में भी मिला करेगा। ऐसा पेस्ट और पावडर जो कई महीनों खराब नहीं होगा। सहकारी संस्था नैफेड और ट्राइफेड उज्जैन के इस प्रोडक्ट को ब्रांड बनाने में मदद करेगी।

दरअसल, मौलाखेड़ी गांव के सुरेश नागर अपने ही गांव में जिले का पहला प्याज का पेस्ट और पावडर बनाने वाला प्लांट डालने जा रहे हैं। प्लांट डालने को पंजाब नेशनल बैंक ने 29 लाख रुपये का कर्ज एक जिला एक उत्पाद योजना में दिया है। राजनीति विज्ञान संकाय में एमए और एलएलबी किए 40 वर्षीय किसान सुरेश ने नईदुनिया से कहा है कि वे 10 वर्षों से प्याज की खेती कर रहे हैं। वे साल में तीन बार ढाई से तीन हेक्टेयर खेत में प्याज की फसल लेते हैं। इससे उन्हें काफी अच्छा मुनाफा भी होता है। हर साल प्याज का भंडारण भी करते हैं। अब एक कदम आगे बढ़कर प्याज से पेस्ट और पावडर बनाने का प्लांट डालने की तैयारी की है।

देश भर के रिटेल शाप पर मिलेगा उत्पाद

नागर के अनुसार फरवरी अंत या मार्च के शुरूआती सप्ताह में प्लांट में प्रोडक्शन शुरू होने की उम्मीद है। प्लांट में हर दिन 5 से 10 क्विंटल प्याज का पेस्ट और पावडर तैयार होगा। ये प्रोडक्ट महाकाल ब्रांड के नाम से देशभर की रिटेलर शाप पर ग्राहकों के लिए उपलब्ध होगा। प्लांट में शुरुआती तौर पर काम करने के लिए छह युवाओं को रोजगार मिलेगा।

एक जिला एक उत्पाद योजना में उज्जैन का प्याज

उज्जैन में अच्छे किस्म के प्याज की बंपर पैदावार होने से शासन ने पिछले साल उज्जैन के प्याज का चयन शासन की एक जिला, एक उत्पाद योजना अंतर्गत किया था। इस योजना के तहत सरकार, युवाओं को सूक्ष्‌म खाद्य प्रसंस्करण इकाई डालने के लिए वित्तीय एवं तकनीकी मदद करती है। उद्देश्य युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्थानीय उत्पाद को बढ़ावा देना और नैफेड और ट्राइफेड के सहयोग से उत्पाद की मार्केटिंग, ब्रांडिंग राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कराना है।

प्रशिक्षण, वित्तीय मदद और जमीन भी

उद्यानिकी विभाग के उपसंचालक सुभाष श्रीवास्तव ने नईदुनिया से कहा है कि ऐसे किसान जो प्याज प्रसंस्करण यूनिट स्थापित करना चाहते हैं, उन्हें उद्योग स्थापित करने को जमीन भी दिलाई जाएगी। ऐसे किसान योजना का लाभ लेने के लिए एमपीएफएसपीएस पोर्टल पर पंजीयन करवा सकते हैं। उद्योग स्थापित करने पर 35 फीसद अनुदान मिलने का प्राविधान है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local