उज्जैन। श्रावणी पूर्णिमा पर गुरुवार को रक्षाबंधन पर्व मनाया जाएगा। ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर में सबसे पहले पुजारी अवंतिकानाथ को राखी बांधकर लड्डुओं का महाभोग लगाएंगे। इसके बाद शहर में त्योहार मनाया जाएगा। बहनें भाई के दीर्घायु जीवन की कामना से मस्तक पर तिलक लगाकर कलाई पर राखी बांधेगी।

महाकाल मंदिर की परंपरा अनुसार श्रावणी पूर्णिमा पर महाकाल को महाभोग लगाया जाता है। इस बार भी पुजारी परिवार की ओर से भगवान को सवा लाख लड्डुओं का भोग लगाया जाएगा। महापर्व को लेकर तैयारी शुरू हो गई है। मंदिर समिति की महाकाल धर्मशाला में महाभोग के लिए लड्डू बनाने का काम शुरू हो गया है।

गोपाल जी को राखी बांधेंगी बहनें

सिंधिया देव स्थान ट्रस्ट के प्रसिद्घ गोपाल मंदिर में गुरुवार सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक रक्षाबंधन त्योहार मनाया जाएगा। पुजारी पं.अर्पित जोशी ने बताया मंदिर के सभा मंडप में गोपालजी की मूर्ति को विराजित किया जाएगा। बहनें गोपालजी को राखी बांधेगी। भगवान को राखी बांधने के लिए स्थानीय के साथ देशभर से बहनें उज्जैन आती हैं।

बड़े गणेश को बंधेगी चांदी की विशाल राखी

महाकाल मंदिर के समीप स्थित बड़ा गणेश मंदिर में भी रक्षाबंधन का त्योहार मनेगा। गणेशजी के लिए देश-विदेश से बहनों ने राखी भेजी है। ज्योतिर्विद पं.आनंदशंकर व्यास ने बताया परिवार की ओर से भगवान को चांदी की विशाल राखी बांधी जाएगी।

घेवर, फैनी की मांग अधिक

मालवा की लोक परंपरा अनुसार राखी पर बहनें भाइयों का मुहं मीठा कराने के लिए घेवर, फैनी जैसी पारंपरिक मिठाई लेकर आती है। इन दिनों छोटा सराफा, भगतजी की गली, ढाबारोड, फ्रीगंज आदि क्षेत्रों में मिठाई की दुकानों पर घेवर, फैनी बनाई जा रही है। देश घी की घेवर फैनी 460 रुपए किलो तथा वनस्पति घी की घेवर, फैनी 180 रुपए किलो मिल रही है।