Shani Margi 2021 Effects: उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पंचांगीय गणना के अनुसार नवग्रहों में अपना विशेष स्थान रखने वाले दो ग्रह शनि व गुरु मार्गी हो रहे हैं। न्याय के अधिपति शनि 143 दिन बाद अपनी ही राशि मकर में सोमवार को मार्गी होंगे। वहीं देवगुरु बृहस्पति 18 अक्टूबर को मार्गी होंगे। एक सप्ताह में दो विशिष्ट ग्रहों के मार्गी होने से बाजार में बदलाव नजर आएगा। मौद्रिक नीति व बैंकिंग सेक्टर में अंतर दिखाई देगा। विभिन्न राशि के जातकों को भी फायदा मिलेगा, उनकी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी।

ज्योतिषाचार्य पं. अमर डब्बावाला के अनुसार सोमवार को शनि का मकर राशि में मार्गी होना विशेष परिवर्तन का चक्र निर्मित करेगा। क्योंकि बीते 143 दिन से वृक्रगत होकर परिभ्रमण कर रहे शनि अपनी ही राशि मकर में मार्गी होने से राहत प्रदान करेंगे। विभिन्न राशि वाले जातकों को सुखद अनुभव होगा। कुछ जातकों के रोग, दोषों की निवृत्ति होकर बाधाओं का निवारण होगा।

धनु, मकर, कुंभ राशि वाले लाभान्वित होंगे

- शनि ग्रह के मार्गी होते ही पूर्व से चले आ रहे धनु राशि वाले जातकों की साढ़े साती का अंतिम ढैया लाभकारी रहेगा। कार्यों में गति आएगी तथा मानसिक शांति का अनुभव होगा। भाग्य उन्नति के साथ साथ आर्थिक प्रगति और विदेश यात्रा पर जाने के योग बनेंगे।

- मकर राशि वाले जातकों के लिए द्वितीय ढैया रहेगा, यह रोग, दोष से निवृत्ति देकर मांगलिक कार्यों के योग बनाएगा तथा परिवार में सुखशांति प्रदान करेगा।

- कुंभ राशि वाले जातकों के लिए व्यापार व व्यवसाय के नए रास्ते खुलेंगे। समाज में प्रतिष्ठा बढ़ेगी तथा नए कार्य करने के अवसर प्राप्त होंगे।

नई योजना बनेंगी

बृहस्पति के मार्गी होते ही बैंकिंग सेक्टर में विशेष प्रकार के परिवर्तन दिखाई देंगे। लोन से संबंधित मामलों के लिए आने वाले चार माह अनुकूल रहेंगे। महंगाई दर को नियंत्रित करने के लिए मौद्रिक नीति बनाने के लिए नई योजनाएं शुरू होगी। इसका आसार बाजार में सकारात्मक परिणाम दर्शाएगा।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local