उज्जैन (नईदुनिया उज्जैन)। शनिश्चरी अमावस्या (4 दिसंबर) का स्नान इस वर्ष भी नर्मदा- शिप्रा के शुद्ध जल में होगा। नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण ने इसके लिए कलेक्टर आशीष सिंह के निर्देश पर नर्मदा का पानी पाइपलाइन के जरिये शिप्रा में छोड़ना शुरू कर दिया है। प्रदूषित कान्ह नदी का पानी शिप्रा में न मिले, इसके लिए जल संसाधन विभाग के कार्यपालन अधिकारी कमल कुवाल को त्रिवेणी घाट के पास हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी मिट्टी का कच्चा बांध बनाने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर एसपी सत्येंद्र शुक्ल के साथ त्रिवेणी घाट का निरीक्षण करने गए थे। उन्होंने नहान, नवग्रह मंदिर में पूजन दर्शन, सफाई की व्यवस्था बेहतर बनाने के निर्देश दिए। निरीक्षण में नगर निगम आयुक्त अंशुल गुप्ता, एडीएम संतोष टैगोर, एएसपी अमरेंद्र सिंह, एसडीएम गोविंद दुबे, कल्याणी पांडेय एवं अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

स्नान के लिए लगाएंगे फव्वारे

पर्व स्नान के लिए घाट पर फव्वारे लगाए जाएंगे। भीड़ प्रबंधन के लिए बैरिकेड्स लगाए जाएंगे। सुरक्षा के लिए होमगार्ड, लाइफ बोट्स, तैराक दल भी तैनात रहेगा।

अभी हरियाखेड़ी आउटलेट से पानी आ रहा

शनिश्चरी अमावस के लिए एनवीडीए ने नर्मदा का पानी हरियाखेड़ी त्रिवेणी नागफनी पाइप लाइन से चालू किया है। अभी हरियाखेड़ी में बने नर्मदा पाइपलाइन के आउटलेट से नर्मदा का पानी शिप्रा में मिलाया जा रहा है। ताकि शिप्रा में उपलब्ध प्रदूषित जल की शुद्धता बढ़े।

भारतीय लोक प्रशासन संस्थान के दल ने स्मार्ट सिटी के कार्यों का अवलोकन किया

उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)।

भारतीय लोक प्रशासन संस्थान नई दिल्ली के दल ने गुरुवार को शहर में चल रहे उज्जैन स्मार्ट सिटी कंपनी के प्रचलित कार्यों का अवलोकन प्रजेंटेशन के माध्यम से किया। कंपनी के कंसल्टेंट ने शहर में सीवरेज प्रोजेक्ट, सोलर प्लांट, स्मार्ट कमांड कंट्रोल रूम, ट्रेफिक मैनेजमेंट सिस्टम, साइकिल ट्रैक, महिलाओं की सुविधाओं के लिए शीलांज, बायो मेथेनेशन प्लांट, पेयजल पूर्ति के लिए नवनिर्मित पानी की टंकी का निर्माण साथ महाकाल मंदिर क्षेत्र में मृदा प्रोजेक्ट का कार्य, सिद्धवट, काल भैरव आदि प्रमुख स्थलों पर सुंदरीकरण के कार्य करवाए जा रहे कार्य बताए। दल ने महाकाल मंदिर क्षेत्र में चल रहे मृदा प्रोजेक्ट के कार्यों का, नूतन स्कूल एवं गणेश स्कूल का अवलोकन किया। दल के द्वारा निरीक्षण के पश्चात फ्रीगंज क्षेत्र में स्ट्रीट वेंडर योजना की जानकारी लेते हुए फरियाली खिचड़ी का ठेला लगाने वाले जयप्रकाश तिवारी से चर्चा की। दल में डा. सचिन चौधरी एसोसिएट प्रोफेसर आइआइपीए, मुजफ्फर उद्दीन अब्दाली डिप्टी डायरेक्टर जनरल, राजेश भंडारी एयर कमांडर, विलास शिवशंकर बरडे डायरेक्टर, नरेश छाबड़ा कमांडर, यू.मनोज, गजेन्द्र सिंह ठाकुर रिजनल जनरल, वुसार्थी नागमणि ज्वाइंट सेकेट्री गवर्नर, हरि कृष्णा नायर कैप्टन, राजेश कुमार असिस्टेंट आइआइपीए शामिल थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local