उज्जैन, नईदुनिया प्रतिनिधि। मक्सी रोड स्थित प्रतापनगर देशी शराब दुकान के आहते में शनिवार को बदमाशों ने जमकर उत्पात मचाया। पानी के पाउच मांगने पर आहता कर्मचारी ने पहले काउंटर पर रुपए जमा करवाने को कहा था। इस पर बदमाश भड़क गए और काउंटर पर बैठे कर्मचारी को जमकर पीटा। इसके सिर पर 5 कांच के जार फोड़ दिए। इस दौरान एक बदमाश चाकू लेकर धमकाते रहा। गंभीर मारपीट के बाद भी चिमनगंज पुलिस ने भारी लापरवाही दिखाते हुए जानलेवा हमले की धाराओं में केस दर्ज करने के बजाए सामान्य मारपीट का केस दर्ज किया। पूरा घटनाक्रम आहते में लगे सीसीटीवी कैमरे में दर्ज हो गया।

एसपी सचिन अतुलकर ने आरोपितों पर प्राणघातक हमले की धारा बढ़ाने तथा तत्काल गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं। पुलिस ने बताया कि ललित पिता रमाकांत शर्मा (50) निवासी उत्तम नगर मक्सी रोड देशी शराब दुकान प्रताप नगर के आहते का कर्मचारी है। शनिवार को करीब 5 बजे वह काउंटर पर बैठा था।

इसी दौरान मक्सी रोड स्थित वर्मा कॉलोनी निवासी बदमाश सत्या उर्फ सत्यम अपने साथियों के साथ आहते में शराब पीने के लिए बैठा था। यहां उसने पानी के पाउच मांगे। इस पर कर्मचारी ने उसे काउंटर पर बैठे ललित के पास रुपए जमा करवाने के लिए कहा था। इस पर सत्या और उसके साथी भड़क गए और मारपीट शुरू कर दी।

थाने के पीछे भोजनालय सहित सात दुकानों में पिला रहे थे शराब, केस बना

नानाखेड़ा थाना के पीछे सात दुकान संचालक अपने यहां लोगों को शराब पिला रहे थे। रविवार को पुलिस ने दबिश देकर दुकानों से शराब जब्त की। आरोपित दुकान संचालकों के खिलाफ केस दर्ज किए गए हैं। बता दें कि बीते कई महीनों से कुछ दुकानदार लोगों को शराब पिला रहे हैं। मगर पहली बार केस दर्ज किया गया है। एसआई संतोष पाठक ने बताया कि थाने के पीछे देशी व विदेशी शराब की दुकान है। आसपास के दुकान संचालक लोगों को बैठाकर शराब पिला रहे थे। इस पर दबिश देकर दुकानों से शराब जब्त कर केस दर्ज किया गया है। हालांकि सभी को थाने से जमानत देकर छोड़ा गया है।

Posted By: Prashant Pandey