उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मक्सी रोड स्थित शंकरपुर में चाय की दुकान संचालित करने वाले दंपति व उनके बेटे को दो बदमाशों ने बुधवार रात को घर में घुसकर चाकू मार दिए थे। उधार सिगरेट नहीं देने पर बदमाशों ने विवाद के बाद हमला कर दिया था। पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया था। कोर्ट ने दोनों को जेल भेजने के आदेश जारी कर दिए।

टीआइ गजेंद्र पचौरिया ने बताया कि शकंरपुर निवासी मायाबाई व उसका पति परमानंद घर के बाहर ही चाय की दुकान संचालित करते हैं। बुधवार रात करीब 9 बजे क्षेत्र के बदमाश अतुल चौकसे व उसका साथ विक्की दोनों निवासी शंकरपुर वहां पहुंचे और मायाबाई से उधार सिगरेट मांगी। महिला ने सिगरेट देने से इंकार कर दिया। जिस पर बदमाश विवाद करने लगे। दंपति ने पुलिस को इसकी जानकारी दे दी थी। जिसके बाद बदमाश वहां से निकल गए थे। कुछ देर बाद बदमाश वहां दोबारा आए और दंपति को उनके घर में घुसकर मारपीट करने लगे। बीच-बचाव करने के लिए उनका पुत्र हिम्मत राठौर भी आ गया था। बदमाशों ने महिला व उसके पति के साथ ही पुत्र को भी चाकू मार दिए। जिससे तीनों घायल हो गए। पुलिस ने दोनों आरोपितों के खिलाफ प्राणघातक हमला करने का केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। गुरुवार को दोनों को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से जेल भेजने के आदेश जारी हो गए।

दो साल की बच्ची को लेकर भागा पति, पुलिस ने मां को सुपुर्द करवाया

उज्जैन । पारिवारिक विवाद के चलते गणगौर दरवाजा क्षेत्र में रहने वाला व्यक्ति अपनी दो साल की बच्ची को लेकर चला गया। महिला ने महाकाल पुलिस को इसकी शिकायत की थी। इस पर पुलिस ने उसकी तलाश की तो पता चला कि वह अपने रिश्तेदार के यहां रतलाम में रह रहा है। पुलिस ने उससे संपर्क किया और उज्जैन बुलाकर बच्ची को मां को सौंपा।

टीआइ मुनेंद्र गौतम ने बताया कि गणगौर दरवाजा निवासी सीमा का पति कपिल चौहान से तीन दिन पूर्व विवाद हो गया था। नशे की हालत में कपिल ने सीमा के साथ मारपीट कर दी थी। इस पर वह शिकायत करने के लिए थाने पहुंची तो कपिल उसकी दो साल की बेटी को लेकर कहीं चला गया। इस पर टीआइ गौतम ने उसकी तलाश शुरू की थी। गुरुवार को पता चला कि कपिल अपने रिश्तेदार के यहां रतलाम में है। इस पर पुलिस ने उससे संपर्क कर उज्जैन बुलाया और बच्ची को उसकी मां को सौंपा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local