Ujjain Mahakal News: ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर में सोमवार शाम हुई प्रबंध समिति बैठक में अनेक महत्वपूर्ण मसलों पर निर्णय लिए गए। बैठक में कुछ सदस्यों ने साल में आने वाले प्रमुख पर्व पर महाकाल दर्शन करने आने वाले भक्तों को निश्शुल्क लड्डू वितरण करने का प्रस्ताव दिया था। समिति ने इस प्रस्ताव को फिलहाल स्थगित कर दिया है। सदस्यों का कहना था कि प्रबंध समिति निर्माण लागत से काफी कम मूल्य पर लड्डू प्रसाद का विक्रय करती है। इससे यह प्रकल्प वैसे ही घाटे में चल रहा है। निश्शुल्क लड्डू वितरण से समिति पर अतिरिक्त वित्‍तीय भार पड़ेगा।

भोजन शाला के लिए स्थान चयन होगा

दीपावली, श्रावणी पूर्णिमा आदि त्यौहारों पर मंदिर के पुजारी परिवार द्वारा भगवान महाकाल को लड्डू तथा पकवानों का महाभोग लगाया जाता है। इस भोग को बनाने के लिए मंदिर में कोई विशेष स्थान उपलब्ध नहीं है। बैठक में पुजारियों की ओर से भोग निर्माण के लिए भोजन शाला बनवने का प्रस्ताव आया था। इस पर समिति ने स्थान चयन कर भोजन शाला का निर्माण कराने का निर्णय लिया। बैठक में महाकाल मंदिर में चल रहे विभिन्ना्‌ निर्माण कार्यों पर होने वाले व्यय का अनुमोदन किया गया।

नहीं बढ़ेगा कर्मचारियों का वेतन

बैठक में कर्मचारियों का वेतन संबंधी मामला अटक गया। बताया जाता है समिति ने प्रशासक को कर्मचारियों का रिपोर्ट कार्ड तैयार करने का कहा है। कर्मचारियों के कार्य कौशल के अनुसार ही उनका वेतन बढ़ाया जाएगा। आगामी बैठक में इस प्रस्ताव पर चर्चा होगी। महाकाल मंदिर में समिति के करीब 350 कर्मचारी कार्यरत हैं। समिति बीते दो सालों से कर्मचारियों को वेतन वृद्धि का लाभ देती आ रही है। बताया जाता है इस बार भी कुछ कर्मचारियों को अधिकारी की श्रेणी का वेतन देने की सिफारिश करते हुए प्रबंध समिति में प्रस्ताव रखा गया था। इस पर समिति सदस्यों ने अधिक काम करने वाले कर्मचारियों को सर्वाधिक वेतन देने की बात कही। इसके लिए कर्मचारियों का रिपार्ट कार्ड तैयार करने को कहा गया है। अब कर्मचारियों को योग्यता के अनुसार वृद्धि का लाभ मिलेगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close