Ujjain Municipal Election: उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि मेडिकल कालेज में पढ़ाई अब हिंदी में भी होगी। ताकि मजदूर का बेटा भी डाक्टर बन सके। कांग्रेस ने तो हम पर अंग्रेजी लाद दी थी, जिसके कारण हमारे तेज दिमाग बच्चे भी अंग्रेजी न जानने से पीछे रह गए। वे यहां भारतीय जनता पार्टी की चुनावी सभा में महापौर प्रत्याशी मुकेश टटवाल और सभी 54 वार्ड के पार्षद प्रत्याशियों के समर्थन में वोट मांगने आए थे। किशनपुरा क्षेत्र में मक्सी रोड पर हुई चुनावी सभा में उन्होंने एक कहानी के माध्यम से कांग्रेस की तुलना केकड़े से की। कहा कि कांग्रेस का केकड़ा नगर निगम मत बना देना। वरना हम विकास कर उज्जैन को ऊपर लाएंगे, वो टांग खींचकर नीचे ले जाएंगे। पूरे पांच साल लड़ाई-झगड़े में ही गुजर जाएंगे। नगर निगम में पिछली बार बोर्ड भाजपा का था और भाजपा के ही मंत्री, सांसद, विधायक रहने से बिना रुकावट के सारे विकास कार्य होते चले गए। हम पैसा भेजते रहे, काम होते रहे। इसलिए कोई चूक मत कर बैठना। उन्होंने दाल मिल चौराहा, गणेश चौराहा और कुम्हार मोहल्ले में भी चुनावी सभा को संबोधित किया।

लोगों की बद्दुआ से गिरी थी कांग्रेस सरकार

सीएम ने उद्बोधन में कहा कि कांग्रेस ने संबल योजना बंद कर लोगों की बद्दुआएं पाई। लोगों की बद्दुआ से ही कांग्रेस की सरकार गिरी। बर्बाद कांग्रेस, अनाथ हो गई है। उनके तो मुख्यमंत्री, प्रदेश अध्यक्ष, नेता प्रतिपक्ष सभी कमल नाथ हैं। भाजपा के महापौर प्रत्याशी मुकेश टटवाल ने प्लेटफार्म पर रहने वाले बच्चों के लिए प्लेटफार्म स्कूल खोला और कांग्रेस प्रत्याशी महेश परमार ने बच्चों की स्कालरशिप खाई।

चुनावी घोषणा पत्र में पीपीपी माडल पर एक और मेडिकल कालेज खोलने की घोषणा

भाजपा ने बुधवार को अपना चुनावी घोषणा पत्र धसंकल्प - 2022ध जारी कर दिया। 65 बिंदुओं में किए जाने वाले कार्यों के साथ शिलान्यास और लोकार्पित किए जा चुके कार्यों को सूचीबद्ध किया गया है। सबसे खास बात पार्टी ने सात साल बाद फिर अपने घोषणा पत्र में शिप्रा का जल शुद्ध करने और सप्तसागरों का संरक्षण करने का संकल्प लिया है। इतना ही नहीं शहर में शासन द्धारा खोले जाने वाले शासकीय मेडिकल कालेज से इतर विक्रम विश्वविद्यालय में अलग से पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) माडल पर एक नया मेडिकल कालेज खोलने की घोषणा की है। ये घोषणा अमल में आती है तो उज्जैन शहर में तीन मेडिकल कालेज हो जाएंगे।

चुनावी घोषणा पत्र का विमोचन मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने बुधवार दोपहर किशनपुरा स्थित मक्सी रोड पर की चुनावी सभा में किया। घोषणा पत्र में 65 विषय रखे गए हैं, जिनमें किए जाने वाले 38 कार्यों के साथ पिछले दो-तीन वर्ष में हुए शिलान्यास एवं लोकार्पित कार्यों का भी सौगात के रूप में जिक्र है। विक्रम विश्वविद्यालय और उद्योगों से जुड़े वो कार्य भी घोषणा पत्र में जोड़ दिए गए हैं, जिनकी स्वीकृति का सीधा वास्ता नगर निगम परिषद से नहीं होता। विक्रम विश्वविद्यालय के लिए वहां की कार्य परिषद और उद्योगों की स्थापना के लिए उद्योग विभाग या औद्योगिक केंद्र विकास निगम लेती है। घोषणा पत्र में विक्रम विश्वविद्यालय में पीपीपी माडल पर मेडिकल कालेज खोलने, मालवी शोधपीठ की स्थापना कराने, अत्याधुनिक एवं केंद्रीकृत प्रयोगशाला का निर्माण कराने, 8 करोड़ रुपये से सेंटर आफ एक्सिलेंस बनाने की बात कही गई है।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close