उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिला अस्पताल के सफाई सुपरवाइजर कैलाश सिसोदिया को जिले में सबसे पहला टीका लगाया गया था। शनिवार सुबह 11.15 बजे टीका लगाने के बाद वह दोपहर करीब 12 बजे तक वहां बैठे रहे। इसके बाद अपने कार्यस्थल जिला अस्पताल पहुुंच गए। यहां दिनभर सामान्य दिनों की तरह काम किया। इस दौरान उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई। कैलाश का कहना था कि आज टीका लगवाकर खुद को भाग्यशाली समझ रहा हूं।

रोकस कार्यालय में आम दिनों की तरह किया काम

चौथे नंबर पर टीका लगवाने वाले जिला अस्पताल के कर्मचारी रूप कुमार रजक आम दिनों की तरह दिनभर अस्पताल में काम करते हुए नजर आए। रोगी कल्याण समिति कार्यालय व सिविल सर्जन कार्यालय में पहुंचकर काम किया। रूप कुमार का कहना था कि उन्हें किसी भी तरह की कोई शिकायत नहीं हुई है। वह दिनभर सामन्य रहे।

टीका लगवाकर किए लोगों के एक्स-रे

जिला अस्पताल के डिजिटल एक्स-रे विभाग में काम करने वाले दिलीप कुमार बोटके को भी शनिवार दोपहर करीब 12 बजे टीका लगाया गया था। आधे घंटे प्रोटोकॉल के तहत वहां बैठने के बाद अपने कार्यस्थल जिला अस्पताल पहुंच गए। यहां दिनभर लोगों के एक्स-रे किए। दिलीप ने बताया कि दिनभर उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई। उनका कहना है कि सभी स्वास्थ्यकर्मी बेखौफ होकर टीका लगवा सकते है।

ओपीडी में किया काम

जिला अस्पताल के वार्डबॉय बालू नाहर ने भी टीका लगवाया था। इसके बाद वह भी ओपीडी पहुंचे और सामन्य दिनों की तरह काम किया। बालू को भी कुछ भी परेशानी नहीं हुई।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags