बड़नगर। जनपद पंचायत की बानगी से सीख लेते हुए भाजपा संगठन ने नगर पालिका के निर्वाचन में फूंक-फूंक कर कदम रखते हुए संगठन से जारी हुए मैंडेट अनुसार अध्यक्ष, उपाध्यक्ष सहित अपील समिति में 2 सदस्यों के निर्वाचन में जीत हासिल की।

18 वार्डों की नगर पालिका में 11 भाजपा के, 5 कांग्रेस और दो निर्दलीय प्रत्याशी जीत कर आए थे। भाजपा के पास स्पष्ट बहुमत होने के बावजूद दावेदार अधिक होने के चलते विघटन की स्थिति दिखाई दे रही थी। संगठन ने संयम से काम लेते हुए निर्वाचन के पूर्व संगठन से आए पर्यवेक्षक नाहरसिंह ने लिफाफा खोला, जिसमें अभय टोंग्या का नाम आया। टोंग्या का नाम आने के बाद बाद भाजपा के पार्षद रितेश चांदीवाला ने भी अपना नामांकन अध्यक्ष हेतु जमा कर दिया। निर्दलीय के रूप में नगर में सबसे अधिक मतों से विजयी हुए श्याम विशनवाणी ने भी अपना नामांकन कांग्रेस के समर्थन से जमा किया। इस प्रकार अध्यक्ष पद के लिए 3 नामांकन जमा हो गए। तत्पश्चात भाजपा संगठन सक्रिय हुआ और रणनीति के तहत रितेश चांदीवाला का नाम उठ गया। मैदान में अध्यक्ष पद के लिए दो उम्मीदवार रह गए, जिनके बीच मुकाबला हुआ और भाजपा के अभय टोंग्या ने 11 मत हासिल किए और निर्दलीय श्याम विशनवाणी को 7 मत मिले। इस प्रकार 4 मतों से भाजपा के अभय को वरदान मिला और नगर सरकार के मुखिया बने। इसके बाद उपाध्यक्ष पद के लिए हुए चुनाव में अनिता वर्मा का नाम भाजपा की ओर से मैंडेट में आया। जिन्होंने अपना फार्म भरा लेकिन वहीं स्थिति फिर से कुछ बिगड़ी और भाजपा के रितेश चांदीवाला ने उपाध्यक्ष पद हेतु फार्म जमा कर दिया और वे नहीं माने और चुनाव मैदान में कूद गए। कांग्रेस की ओर से मुमताज बी ने अपना नामांकन जमा किया। मैदान में तीन प्रत्याशी होने के चलते हुए निर्वाचन में भाजपा की अनिता वर्मा को 8 मत मिले। कांग्रेस की मुमताज बी को 6 मत और भाजपा से बागी होकर चुनाव लड़े रितेश चांदीवाला को 4 मत प्राप्त हुए। इस प्रकार उपाध्यक्ष पद पर भी भाजपा ने अपना कब्जा जमा लिया। अपील समिति के 2 सदस्य हेतु हुए निर्वाचन में भाजपा के अजय दौराया और कांग्रेस की शीतल गेहलोत को बराबर 9-9 मत प्राप्त हुए। जिसके बाद पर्ची से नाम निकाला गया। जिसमें भाजपा के अजय दौराया का नाम निकला और वे विजयी हुए। दूसरे सदस्य के लिए हुए निर्वाचन में भाजपा की लक्ष्‌मी बादशाह को 11 मत और कांग्रेस की पार्षद मंजू आचार्य को 7 मत मिले और अपील समिति के निर्वाचन में भी दोनों सदस्य भाजपा के निर्वाचित हुए। निर्वाचन के बाद नगर पालिका परिसर के बाहर भाजपा के अनेक कार्यकर्ता ढोल ढमाकों के साथ भाजपा के झंडे लहराते हुए और गुलाल उड़ाते हुए नाच गाकर खुशियां मनाने लगे।

रिटर्निंग अधिकारी एसडीएम निधिसिंह ने तहसीलदार सुदीप मीणा, सीएमओ संदेश शर्मा की मौजूदगी में निर्वाचित पदाधिकारियों को प्रमाण पत्र प्रदान किया।

बागी पर होगी कार्रवाई : पर्यवेक्षक सिंह

उपाध्यक्ष पद के लिए हुए निर्वाचन को देखते हुए लगता है कि भाजपा के बागी रितेश अगर अध्यक्ष पद के लिए हुए निर्वाचन से अपना फार्म वापस नहीं लेते और चुनाव लड़ते तो तय स्थिति थी कि इसका लाभ निर्दलीय अध्यक्ष प्रत्याशी विशनवाणी को बराबर मिलता। भाजपा से बागी रितेश के चुनाव लड़ने के संबंध में पर्यवेक्षक जिला मंत्री नाहरसिंह ने कहा कि अनुशासनहीनता हुई है। जिलाध्यक्ष और प्रदेश अध्यक्ष को इससे अवगत कराया जाएगा। इन पर कार्रवाई की जाएगी।

00000000000

कांग्रेस की सुनीता परमार अध्यक्ष, कामिल कुरैशी उपाध्यक्ष निर्वाचित

तराना। नगर परिषद के 15 पार्षदों में से अध्यक्ष, उपाध्यक्ष पद के लिए बुधवार को चुनाव हुए। इसमें कांग्रेस की सुनीता परमार ने अध्यक्ष, कामिल कुरैशी ने उपाध्यक्ष पद पर जीत हासिल की।

निर्वाचन के पूर्व कांग्रेस के पर्यवेक्षक सैलाना विधायक हर्ष विजय गेहलोत एवं जिला पंचायत सदस्य संतोष पालीवाल ने पार्षदों से रायशुमारी कर अध्यक्ष पद के लिए सुनीता रूपेश परमार एवं उपाध्यक्ष पद के लिए कामिल कुरैशी का नाम प्रस्तावित किया। स्थानीय जनपद पंचायत सभागृह में अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष पद के लिए निर्वाचन हेतु पीठासीन अधिकारी एवं एसडीएम एकता जायसवाल ने आरक्षण एवं निर्वाचन के संबंध में जानकारी दी। अध्यक्ष पद के लिए वार्ड 9 से कांग्रेस पार्षद सुनीता परमार ने व वार्ड 12 की पार्षद भाजपा की सुषमा जायसवाल ने नाम निर्देशन पत्र दाखिल किया था। उपाध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस पार्षद कामिल कुरैशी एवं भाजपा के महेश जोशी ने नाम निर्देशन प्रस्तुत किया था। सुनीता परमार को 11 मत एवं सुषमा जायसवाल को 4 मत प्राप्त हुए। इसी प्रकार उपाध्यक्ष पद पर कामिल कुरैशी को 11 व महेश जोशी को 4 मत प्राप्त हुए। नगर परिषद में 15 पार्षद में से 10 कांग्रेस समर्थित चार भाजपा के व एक निर्दलीय था।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close