- 10 लाख रुपये की कर रही थी मांग

उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शाजापुर एसआइ नरेंद्र चौहान के आत्महत्या मामले में नागझिरी पुलिस ने महिला आरक्षक पर केस दर्ज कर उसे मंगलवार को जेल भेज दिया। स्वजन ने आरक्षक द्वारा ब्लैकमेल कर 10 लाख रुपये मांगने के आरोप लगाए थे।

शाजापुर के वायरलेस विभाग में पदस्थ एसआइ चौहान ने 8 जून को नागझिरी की सनशाइन कालोनी स्थित अपने मकान फांसी लगा ली थी। पुलिस को मौके से सुसाइड नोट मिला था जिसमें शाजापुर कंट्रोल रूम में पदस्थ आरक्षक ममता परिहार पर ब्लैकमेल करने के आरोप लगाए गए थे। चौहान की पत्नी माया, पुत्री नेहा और मिष्ठी ने भी परिहार पर रुपये मांगने का आरोप लगाया था। मामले में टीआइ विक्रमसिंह ईवने ने बताया कि जांच के बाद परिहार के खिलाफ धारा 306 का केस दर्ज कर सोमवार रात उसे शाजापुर से गिरफ्तार किया था। मंगलवार को कोर्ट में पेश किया गया जहां से जेल भेज दिया गया। चौहान की पत्नी माया, पुत्री नेहा और मिष्ठी ने भी परिहार पर रुपये मांगने का आरोप लगाया था। मामले में टीआइ विक्रमसिंह ईवने ने बताया कि जांच के बाद परिहार के खिलाफ धारा 306 का केस दर्ज कर सोमवार रात उसे शाजापुर से गिरफ्तार किया था। मंगलवार को कोर्ट में पेश किया गया जहां से जेल भेज दिया गया।

राजीनामा करने के नाम पर मांग रही थी रुपये

पुलिस के अनुसार टीआइ और उसके परिवार पर 31 दिसंबर 2021 की रात ममता ने मारपीट का आरोप लगाया था। इसके बाद 17 मार्च को चौहान परिवार पर शाजापुर के लालघाटी थाने में केस दर्ज हो गया था। राजीनामा करने कें नाम पर ममता 10 लाख रुपये मांग रही थी। प्रकरण में 9 जून को चालान पेश होना था।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close