Ujjain News: नागदा( नईदुनिया न्यूज)। समर्थन मूल्य पर खरीदी गई उपज का भुगतान नहीं होने से आक्रोशित किसानों ने सोमवार को जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के मुख्य द्वार पर ताला लगा दिया। तहसीलदार और टीआइ के समझाइश के 45 मिनट बाद ताला खोल दिया। जिला मुख्यालय से बैंक के सीएमडी श्रीवास्तव के आने के बाद ज्ञापन सौंपा और आंदोलन स्थगित किया।

समर्थन मूल्य की उपज का भुगतान नहीं मिलने से आक्रोशित किसानों ने सोमवार को भारतीय किसान संघ के तत्वावधान में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक पर धरना प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान आक्रोशित किसानों ने बैंक के मुख्य द्वार पर ताला लगा दिया। लगभग 45 मिनट तक ताला लगा रहा। एसडीएम आशुतोष गोस्वामी ने तहसीलदार आशीष खरे, टीआइ श्यामचंद्र शर्मा को दल बल के साथ मौके पर पहुंचाया। संघ के उदयसिंह आंजना एवं नागूसिंह आंजना ने बताया कि समर्थन मूल्य के पंजीयन के दौरान किसानों से सभी दस्तावेज मांगे गए थे। उसके बाद भी जीरो बैलेंस वाले खाते में भुगतान किया जा रहा है। कुछ किसानों द्वारा ऋण की अदायगी करने के बाद भी राशि काटी जा रही है। कुछ किसानों को एक रुपये का भी भुगतान नहीं हुआ, जिससे किसानों को आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बैंक प्रबंधक बालकृष्ण शर्मा ने बताया कि दो दिन पहले भुगतान की व्यवस्था में परिवर्तन किया गया है। किसान संबंधित उपार्जन केंद्र पर पहुंचकर बैंक खाता नंबर उपलब्ध कराएगा। उसी खाते में भुगतान प्राप्त होगा। संघ के नागेश्वर शर्मा ने सीएमडी विशेष श्रीवास्तव को बताया कि समय पर भुगतान नहीं होने से किसान बैंक में डिफाल्ट हो गया। ब्याज की राशि का भुगतान शासन को माफ करना चाहिए। सीएमडी श्रीवास्तव ने किसानों को आश्वासन दिया कि इसका प्रस्ताव बनाकर वरिष्ठ अधिकारियों को भेजेंगे। जिन किसानों का भुगतान शेष है, उनको 8 दिन की समय अवधि में भुगतान हो जाएगा। प्रदर्शन के दौरान बद्रीलाल आंजना, गोपीलाल, जीवनसिंह, रामगोपाल दास, रामचंद्र सोलंकी, चंद्रभानसिंह नरूका, राजाराम सेकवाड़िया, श्यामबाबू, प्रकाश, रामरतन, नागूसिंह आंजना, उदयसिंह आंजना, कृष्णपाल सिंह आदि उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close