उज्जैन। शहर में बारिश का दौर जारी है। शुक्रवार को 24 घंटे में करीब 3.5 इंच बारिश दर्ज की गई। वहीं शिप्रा में लगातार पानी की आवक से शिप्रा का जलस्तर काफी बढ़ गया है। सीजन में पहली बार शिप्रा ने बड़े पुल को छुआ है। पानी रामघाट से आगे बढ़ते हुए मुंबई वालों की धर्मशाला तक पहुंच गया।

सिद्घवट पर घाट पानी में डूबने के कारण मंदिर की धर्मशाला के यहां पितृकर्म करना पड़े। निचले इलाकों में भी पानी भरने के समाचार हैं। यहां नगर निगम प्रशासन ने बचाव दल की तैनाती की है। जिले में भी यही हाल हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में खेतों में पानी भरने के कारण फसल खराब होने लगी है।

शनिवार की तड़के भी शहर में तेज बारिश हुई। इस दौरान कई रहवासी क्षेत्रों में भी पानी जमा हो गया। त्रिवेणी पर भी शिप्रा का जलस्तर अधिक रहा। यहां नदी के जल ने घाट की सीढ़ियों को छू लिया। इस क्षेत्र में खेतों मेंं बारिश का पानी जमा हो गया।

बारिश से शहर की कुछ रहवासी कॅालोनियां भी प्रभावित रहीं। बारिश के कारण रहवासी क्षेत्रों के बड़े नाले भर गए। सुबह के समय हुई तेज बारिश के दौरान सड़कें सूनी रहीं। लोग बारिश में बाहर निकलने से बचते रहे। तड़के करीब 3.30 बजे हुई बारिश सुबह लगभग 8.00 बजे तक जारी रही। तेज बारिश के चलते कई क्षेत्रों में पानी भरने से लोग परेशान होते रहे।

Indore Weather Update : भारी बारिश की आशंका, इन कॉलोनियों के लोगों को किया शिफ्ट

Indore Weather Update : सितंबर की बारिश का 10 साल का रिकॉर्ड टूटा, 13 दिन में ही 12 इंच

Posted By: Nai Dunia News Network