Ujjain News: खाचरौद (नईदुनिया न्यूज)। तीन माह की मासूम की पानी की टंकी में डूबोकर हत्या करने के आरोप में 11 दिन बाद शुक्रवार को पुलिस ने उसकी मां को ही गिरफ्तार कर लिया। बेटी को जन्म देने के एक सप्ताह बाद से ही मां गूगल पर उसकी हत्या करने के तरीके ढूंढ रही थी। जिस समय घर की तीसरी मंजिल पर बनी पानी की टंकी में बेटी को डुबोया था उससे 10 मिनट पूर्व भी उसने इससे संबंधित वीडियो यूट्यूब पर सर्च किया था। पुलिस उससे पूछताछ में जुटी है कि उसने बेटी की हत्या क्यों की।

टीआइ रवींद्र यादव ने बताया कि 12 अक्टूबर को थाने के सामने स्थित कारोबारी सुभाष भटेवरा के मकान से उसकी तीन माह की पोती विरती के गायब होने की सूचना मिली थी। शव घर की तीसरी मंजिल पर बनी पानी की टंकी में मिला था। घटना के दौरान बालिका की मां स्वाति और दादी अनिता घर में ही थी। बालिका के पिता व दादा कृषि उपज मंडी स्थित दुकान पर थे। पुलिस ने जांच के दौरान 15 संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ की थी मगर कुछ जानकारी हाथ नहीं लगी।

मां का मोबाइल खंगाला तो मिला सुराग

पुलिस के अनुसार अर्पित और स्वाति की शादी 21 फरवरी 2019 को हुई थी। शादी के बाद से ही पत्नी को ऊपरी हवा होने का दावा स्वजन कर रहे हैं । 6 जुलाई को स्वाति ने विरती को जन्म दिया था। बेटी के जन्म के एक सप्ताह बाद से ही स्वाति अपने मोबाइल पर गूगल पर बेटी को मारने के उपाए तलाश रही थी। पुलिस ने मोबाइल जब्त कर साक्ष्य जुटाए थे। जांच में सामने आया था की हत्या के 10 मिनट पूर्व भी स्वाति ने मोबाइल पर पानी में डूबोकर हत्या करने का वीडियो देखा था।

नईदुनिया में खबर के बाद सक्रिय हुई पुलिस

सूत्रों का कहना है कि पुलिस को हत्या के दो दिन बाद ही सुराग हाथ लग गया था। इसके बाद भी पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही थी। नईदुनिया द्वारा 22 अक्टूबर के अंक में इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। जिसके बाद पुलिस सक्रिय हुई और साक्ष्य जुटाकर स्वाति को गिरफ्तार कर लिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local