Ujjain News : नईदुनिया, उज्जैन। मध्य प्रदेश के उज्जैन में गुरुवार को गिरफ्तारी के बाद गैंगस्टर विकास दुबे ने उत्तर प्रदेश पुलिस के आठ पुलिसकर्मियों की हत्या से जुड़ी कई अहम जानकारियां पुलिस को दी थीं। उसने कुबूला था कि सीओ मेरे पैर पर टिप्पणी करते थे, इसलिए मेरे साथियों ने उन्हें मार डाला।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, बिकरू कांड में बलिदानी सीओ देवेंद्र मिश्र के बारे में विकास ने पुलिस को बताया था कि उसका उनसे कई बार विवाद हो चुका था। उसने बताया था कि आसपास के थानों में पदस्थ कई पुलिसकर्मियों ने जानकारी दी थी कि सीओ मेरे खिलाफ हैं। इससे मुझे सीओ पर बहुत गुस्सा आता था।

विकास ने कुबूला था कि सीओ को उसने नहीं मारा। उसके साथियों ने आहते से मामा के आंगन में जाकर हमला किया। विकास का कहना था कि सीओ मेरे पैर को लेकर अक्सर कहा करते थे कि विकास का एक पैर गड़बड़ है, मैं दूसरा भी ठीक कर दूंगा। इसलिए मेरे लोगों ने उनके पैर पर वार करने के बाद पास से सिर पर गोली मारी थी।

आठों पुलिसकर्मियों को जलाने की थी तैयारी

विकास ने बताया था कि उसे यह पता चल गया था कि पुलिस छापा मारने आने वाली है, लेकिन वह रात में ही पहुंच जाएगी, इसका अंदाजा नहीं था। पुलिसकर्मियों को मारने के बाद सुबूत मिटाने के लिए सभी को एक साथ जलाने की तैयारी थी। शवों को भी इकट्ठा कर लिया था, लेकिन फिर और फोर्स आने की सूचना मिली तो जिसे जहां जगह मिली भाग निकला। उधर, पुलिस ने पूछताछ के मुद्दे पर अधिकृृत रूप से कुछ भी कहने से इन्कार कर दिया है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020