उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। Ujjain News महाकाल मंदिर पहुंच मार्ग पर चल रहे धरने के मुद्दे ने राजनीतिक तूल पकड़ लिया है। इसी मामले में एक विवादित बयान पर पुलिस ने भाजयुमो के महामंत्री योगेश सांगते को बुधवार को गिरफ्तार कर रासुका के तहत रीवा जेल भेज दिया।

गुरुवार को वाल्मीकि समाज के साथ भाजपा विरोध में सड़क पर उतर आई। एसपी ऑफिस के सामने धरना दिया। इस दौरान पूर्व मंत्री व मौजूदा विधायक पारस जैन ने कहा कलेक्टर, एसपी और आईजी में दम है तो उन्हें रासुका में बंद करके दिखाएं। प्रधानमंत्री व गृहमंत्री के खिलाफ वीडियो वायरल करने वाले एक शख्स पर कार्रवाई न करने की बात कहकर बोले क्या ये पुलिस अफसर चूडियां पहनकर बैठे हैं।

फ्रीगंज स्थित पुलिस कंट्रोलरूम व एसपी कार्यालय के सामने मुख्य रोड पर बैठकर भाजपा ने करीब ढाई घंटे तक धरना दिया। इसमें सांसद अनिल फिरोजिया, महापौर मीना जोनवाल, निगम अध्यक्ष सोनू गेहलोत, पूर्व सांसद डॉ. चिंतामणि मालवीय, नगर भाजपा अध्यक्ष विवेक जोशी सहित पार्षद व कार्यकर्ता शामिल हुए।

उज्जैन उत्तर के विधायक जैन ने विरोध का मोर्चा संभाला और कहा निर्दोष कार्यकर्ताओं पर रासुका लगाई जा रही है जबकि भैरवगढ़ के एक व्यक्ति ने गृहमंत्री व प्रधानमंत्री के खिलाफ अनर्गल बातें सोशल मीडिया पर डाल रहे हैं। उनके खिलाफ पुलिस प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा। एसपी ऑफिस की ओर उंगली दिखाते कहा- क्या ये अफसर चूड़ी पहनकर बैठे हैं, क्यों उस व्यक्ति को गिरफ्तार नहीं करते।

सांसद फिरोजिया ने कहा ये ब्रिटिश शासनकाल से भी खराब स्थिति है। भाजपा ने फ्रीगंज ओवरब्रिज, चामुंडामाता मंदिर चौराहा और मालीपुरा क्षेत्र में भी धरना देकर विरोध प्रदर्शन किया। इससे ओवरब्रिज सहित रास्तों पर आवागमन प्रभावित हुआ।

Posted By: Hemant Upadhyay