उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे प्रशासन ने गदा पुलिया के समीप बने अंडर पास को तोड़कर नया बनाने का काम 22 अप्रैल को शुरू किया था। 45 दिनों में काम पूरा किए जाने का लक्ष्‌य रखा गया है, लेकिन 25 दिन गुजरने के बाद भी अब तक केवल गड्ढा ही खोदा गया है। अंडर पास बंद होने के कारण वाहन चालक व क्षेत्रवासी खासे परेशान हो रहे हैं।

बता दें कि रेलवे द्वारा करीब पांच साल पूर्व गदा पुलिया के समीप बने अंडर पास में सुधार कार्य किया गया था। इसके बाद भी अंडर पास काफी जर्जर हो चुका था। खतरनाक हो चुके अंडर पास का फिर से निर्माण किया जाना जरूरी था। 22 अप्रैल को रेलवे अधिकारियों ने अंडर पास के दोनों सिरों को ब्लाक कर तुड़ाई का काम शुरू कर दिया था। रेलवे अधिकारियों का कहना था कि 45 दिनों में काम पूरा किया जाना है। इसके लिए ब्लाक नहीं लिया जा रहा है। दो ट्रैक होने के कारण ट्रेनों का संचालन प्रभावित नहीं होगा। लेकिन ठेकेदार ने 25 दिनों में मात्र गड्ढ खोदा है। आधा समय गुजरने के बाद भी निर्माण कार्य शुरू नहीं होने के कारण अंबर कालोनी, साईधाम कालोनी, विवेकानंद कालोनी, नीलगंगा, हनुमान नाका, मंछामन कालोनी के लोग खासे परेशान हो रहे है। इन क्षेत्र के लोगों ने दूसरी ओर जाने के लिए हरिफाटक पुल पर घूमकर जाना पड रहा है, वहीं हजारों वाहन चालक भी परेशान हो रहे हैं।

मीटरगेज को बदल रहे ब्राडगेज में

रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म नंबर सात से लेकर शिप्रा ब्रिज तक मीटरगेज मार्ग को ब्राड गेज में बदला जा रहा है। उज्जैन-फतेहाबाद गेज परिवर्तन काम के दौरान इस हिस्से का गेज नहीं बदला गया था। गेज परिवर्तन होने से स्टेशन से लेकर शिप्रा ब्रिज तक तीन लाइन हो जाएगी। जिससे ट्रेनों के संचालन को लेकर सुविधा होगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close