उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बियाबानी चौराहे पर रहने वाले एक व्यापारी से नकली जेवरात गिरवी रखकर करीब 15 लाख रुपये की धोखाधड़ी करने वाले तीन आरोपितों को खाराकुआं पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने दो बार में कुल 550 ग्राम नकली सोने के जेवर गिरवी रखकर रुपये लिए थे। तीसरी बार फिर आभूषण गिरवी रखने आए तो कारोबारी को शंका हुई और उसने जेवरात की जांच करवाई तो नकली मिले। मामले में पुलिस एक और आरोपित की तलाश में जुटी है।

टीआइ रवींद्र कटारे ने बताया कि राजेश पोरवाल निवासी बियाबानी चौराहा की वीडी मार्केट में कपड़े की दुकान है। कुछ दिन पूर्व उसके दोस्त मुकेश का फोन आया और उसने कहा था कि अरविंद नामक एक व्यक्ति जेवर गिरवी रखकर रुपये उधार लेना चाहता है। इस पर राजेश ने अरविंद को मिर्चीनाला बुलाया था। जहां अरविंद ने 136 ग्राम वजन सोने का बताकर चार चूड़ी, एक हार, दो चेन, चार अंगूठी, तीन पैंडल, एक जोड़ कान के टाप्स गिरवी रखे और 5 लाख 50 हजार रुपये उधार ले गया। इसके बाद 3 जून को अरविंद फिर अपने दोस्त के साथ राजेश के पास आया और सोने के आभूषण गिरवी रखकर करीब 10 लाख रुपये और उधार ले गया। दोनों बार में अरविंद कुल 550 ग्राम नकली सोने के आभूषण गिरवी रखकर 15 लाख रुपये ले गया था। शंका होने पर राजेश पोरवाल ने सुनार से जेवरात की जांच करवाई तो वह नकली मिले थे।

गुरुवार को अरविंद फिर से एक व्यक्ति को लेकर आया था। राजेश ने उसे पहले घर बुलाया और आभूषण देखने के बाद फ्रीगंज स्थित कॉम्प्लेक्स से रुपये देने के बहाने ले गया। जहां खाराकुआं पुलिस ने अरविंद गेहलोत निवासी ग्राम नवाखेड़ा इंदौर रोड, उसके दोस्त राजा ठाकुर और राजेश को भी गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में अरविंद ने बताया कि इंदिरा नगर निवासी प्रहलाद ने उसे जेवरात भेजकर गिरवी रखने को कहा था। इसके एवज में वह तीन हजार रुपये देता था। प्रहलाद ब्याज का धंधा करता है। पुलिस अब प्रहलाद की तलाश में जुटी है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close