Vikas Dubey Arrested : उज्जैन। उत्‍तर प्रदेश के गैंगस्टर विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद बम स्क्वॉड ने महाकाल मंदिर के हर हिस्से की पड़ताल की। पुलिस को आशंका थी कि कहीं दुबे द्वारा और कोई साजिश तो नहीं रची गई। हालांकि मंदिर परिसर की सर्चिंग के दौरान कुछ नहीं मिला।

दुबे की गिरफ्तारी के बाद मंदिर परिसर की सुरक्षा व्यवस्था और बढ़ा दी गई है। देवास गेट क्षेत्र से कार बरामद दुबे की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने शहर के देवास गेट क्षेत्र उत्तर प्रदेश की एक कार भी बरामद की है। इस पर हाइकोर्ट भी लिखा है। बताया जाता है कि दुबे इसी कार से आया था। उसके साथ दो वकील भी थे।दोनों वकीलों को हिरासत में लिया गया है।

ट्रांजिट रिमांड लेगी पुलिस

गैंगस्टर विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद स्थानीय पुलिस उसे जल्द कोर्ट में पेश करेगी। मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश करने के बाद पुलिस उसका ट्रांजिट रिमांड लेगी। इसके बाद दुबे को उत्तर प्रदेश पुलिस के हवाले कर दिया जाएगा।

सीआरपीसी की धारा 72 के अनुसार अगर किसी दूसरे प्रदेश की पुलिस किसी आरोपित को गिरफ्तार करती है तो उसे स्थानीय अदालत में 24 घंटे अंदर पेश करना होता है। स्थानीय अदालत से प्रत्यर्पण की अनुमति लेकर ही दूसरे प्रदेश की पुलिस उसे अपने क्षेत्र में ले जाती है। इस अनुमति को ही ट्रांजिट रिमांड कहते हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस