उज्‍जैन। महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने पत्नी सविता और पुत्री स्वाति के साथ उज्जैन में महाकालेश्वर मंदिर में भगवान महाकाल का विधि-विधान से पूजन-अर्चन किया। पूजन पं.घनश्याम शर्मा और अन्य पुरोहितों द्वारा करवाया गया। राष्ट्रपति के साथ पूजन में राज्यपाल मंगुभाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और साधना सिंह चौहान शामिल हुई। संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर भी मौजूद थीं।

इससे पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्‍द का उज्जैन आगमन पर राज्यपाल मंगुभाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तथा वाणिज्यिक कर, वित्त, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी मंत्री तथा उज्जैन जिले के प्रभारी मंत्री जगदीश देवड़ा ने पुष्प-गुच्छ भेंट कर आत्मीय स्वागत किया।

राष्ट्रपति विधायक सर्वश्री पारस जैन और बहादुर सिंह चौहान ने भी पुष्प-गुच्छ भेंटकर आत्मीय स्वागत किया। राष्ट्रपति कोविन्‍द सपरिवार उज्जैन आये।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक वरूण कपूर, संभागायुक्त संदीप यादव, आईजी संतोष कुमार सिंह, कलेक्टर आशीष सिंह और पुलिस अधीक्षक सत्येन्द्र कुमार शुक्ल भी उपस्थित थे।

राष्ट्रपति ने मंदिर के गर्भगृह में भगवान महाकाल की पूजा-अर्चना की। मंदिर परिसर में ग्रीन रूम तथा अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधा से लैस आइसीयू का निर्माण किया गया । राष्ट्रपति ने रेड कारपेट पर चलकर मंदिर में प्रवेश किया। नंदी मंडपम में उनके बैठने के लिए विशेष इंतजाम किए गए थे। गर्भगृह, नंदी मंडपममें आकर्षक पुष्प सज्जा की गई । शासकीय पुजारी व उनके सहयोगी ने राष्ट्रपति को विधि-विधान से भगवान महाकाल की पूजा करवाई। इस दौरान परंपरा अनुसार पाट पर तीन पुजारी बैठे। जिस समय राष्ट्रपति मंदिर में दर्शन पूजन कर रहे थे तब सुरक्षा के मद्देनजर भक्तों का प्रवेश प्रतिबंधित किया गया था।

राष्ट्रपति का महानिर्वाणी अखाड़े में ठहरने का कार्यक्रम निरस्त किया गया। पूजन के उपरांत महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति की ओर से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राष्ट्रपति को शाल और प्रतीक चिन्ह व प्रसादी देकर सम्मानित किया। इसके बाद राष्ट्रपति सर्किट हाउस रवाना हो गए। महाकाल मंदिर के गर्भ गृह में राष्ट्रपति ने शासकीय पुजारी पंडित घनश्याम शर्मा के आचार्यत्व में भगवान महाकाल की पूजा की पूजा अर्चना की। राष्ट्रपति ने परिवार के साथ भगवान महाकाल के सम्मुख बैठकर पूजन किया। पूजा अर्चना के बाद राष्ट्रपति ने भेंट राशि का लिफाफा नंदीहाल में रखी दान पेटी में डाला। राष्ट्रपति का अनुसरण राज्यपाल मंगु भाई पटेल ने भी किया।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close