उमरिया, नईदुनिया प्रतिनिधि। बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व से लगे ग्राम दमना में एक बाघिन और उसके शावक का मूवमेंट बना हुआ है। इसकी वजह से ग्रामीणों में दहशत छाई हुई है। इस मामले की जानकारी वन विभाग को भी दे दी गई है और वन विभाग ने गांव के लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा है। बताया गया है कि बाघिन कजरी और उसका शावक गांव के बिल्कुल निकट सक्रिय है जिसके कारण कोई बड़ी घटना हो सकती है।

मवेशी का किया शिकारः

सोमवार को शावकों के साथ कजरी बाघिन ने ग्राम दमना में पालतू मवेशी का शिकार किया है। शिकार करके कुछ देर रुकने के बाद वह वन क्षेत्र की ओर निकल गई। इस बीच करींब 8 माह का शावक शिकार को खाने में लगा रहा। शावक की वजह से बाघिन की मूवमेंट गांव में ही बनी हुई है।इस घटना को लेकर ग्रामीणों में जमकर दहशत है।

गांव की बिजली बंदः

दूसरी ओर बिजली विभाग ने ग्राम दमना सहित बांसा, घघोड,गाटा सहित क़ई गांव में पिछले क़ई दिनों से ब्लैक आउट के हालात बना रखे हैं। बिजली आ रही और क़ई घण्टे फिर बंद हो जा रही है। बाघिन के मूवमेंट के दौरान गांव में अंधेरा रहने से खतरा और भी बढ़ गया है।

दहशत में ग्रामीणः

स्थानीय ग्रामीणों में एक ओर गांव में शिकार को निवाला बना रहे बाघिन और उसके शावकों की दहशत है तो दूसरी तरफ बिजली विभाग की मनमानी से शाम ढलते ही अंधेरे का डर बना हुआ है।स्थानीय ग्रामीणों की मांग है कि रिहायशी क्षेत्र में घुसे बाघ को गांव से पृथक किया जाए,वही दूसरी ओर बिजली की समुचित व्यवस्था अविलंब की जाए।

जंगल से घिरा गांवः

ग्राम बड़खेड़ा अंतर्गत दमना गांव पार्क वन क्षेत्र से घिरा हुआ है, यहां आये दिन वन्य प्राणियों की मूवमेंट होती है। ऐसी परिस्थिति में बिजली विभाग का मनमाना रवैया आम लोगों को मौत के हवाले छोड़ने जैसा है। ग्रामीणों ने मांग की है कि जल्द से जल्द उनकी इस समस्या की तरफ गंभीरता से ध्यान दिया जाए।

रास्ते से गुजरी बाघिनः

बताया जाता है कि सुबह घघोड़ निवासी स्थानीय तारण सिंह अपनी पुत्री शुभी सिंह को विद्यालय छोड़ने जा रहे थे,तभी कजरी बाघिन बिल्कुल करीब से सड़क के दूसरी ओर निकल गई। इस घटना से स्थानीय तारण सिंह सुबह से ही दहशत में है।ग्रामीणों की माने तो कजरी बाघिन अपने शावकों के साथ घघोड खेरदाई मंदिर स्थित शिहरी नाला एवं दमना-घघौण तिराहा पर अक्सर देखी जा रही है,जो रहवासी क्षेत्र से सटा हुआ है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close