उमरिया (नईदुनिया प्रतिनिधि)। त्रिस्तरीय पंचायतों के पहले चरण का चुनाव कराने वाले कर्मचारियों की दूसरे चरण के मतदान में भी ड्यूटी लगा दी गई है। इससे कर्मचारियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार त्रिस्तरीय पंचायत राज संस्थाओ के निर्वाचन कार्यक्रम के तहत जिले के मानपुर जनपद पंचायत मे द्वितीय चरण में 1 जुलाई को विभिन्ना पदों के लिये मतदान प्रातः 7.00 बजे से अपरान्ह 3.00 बजे तक संपन्ना होगा। विभिन्ना पदों हेतु मतगणना मतदान केंद्रो मे ही संपन्ना होगी। इसके लिए शासकीय रणविजय प्रताप सिंह महाविद्यालय में मतदान दलों को प्रशिक्षण दिया गया। इस प्रशिक्षण में वे कर्मचारी भी शामिल हुए जिन्होंने शनिवार को पहले चरण का मतदान कराया था और रविवार को सामग्री जमा कराके गए थे। बाकी के कर्मचारियों को मंगलवार को प्रशिक्षण दिया जाएगा और उसमें भी पहले चरण में मतदान करा चुके कर्मचारी शामिल होंगे।

प्रेक्षक भी पहुंचे

निर्वाचन प्रेक्षक आर आर वामनकर ने प्रशिक्षण का अवलोकन करते हुए कहा कि निर्वाचन में सुचिता, निष्पक्षता महत्वपूर्ण पहलू है। निर्वाचन कार्य में किसी भी तरह की लापरवाही क्षम्य नही होती है। इसलिए दल के सभी सदस्य पूर्ण मनोयोग के साथ प्रशिक्षण प्राप्त करें तथा निर्वाचन संपन्ना करानें में अहम भूमिका का निर्वहन करें। उन्होंने प्रशिक्षण की गुणवत्ता का प्रशिक्षण कक्षों का भ्रमण कर आंकलन किया तथा प्रशिक्षणार्थियों से निर्वाचन संबंधी नियमों की जानकारी भी प्राप्त की।

पहले वाला ही प्रशिक्षण

स्थानीय रणविजय प्रताप सिंह महाविद्यालय उमरिया में मतदान दलों को मास्टर ट्रेनर्स के द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान मास्टर ट्रेनर द्वारा मतदान दलों के गठन से लेकर मतदान सामग्री प्राप्त करनें , मतदान सामग्री का मिलान, मतदान दलों की रवानगी, मतदान केंद्र में पहुंचनें के पश्चात की जाने वाली तैयारियों, मतदान दिवस के दिन मतदान केंद्र की तैयारियों , मतदान प्रारंभ करने के पूर्व की जाने वाली कार्यवाहियों, रिर्पोटिंग, कम्युनिकेशन, इस दौरान तैयार किए जाने वाले प्रपत्रों, मतदान के पश्चात मतदान केंद्र पर ही संपन्ना होने वाली मतगणना के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई।

सावधानी से काम करने की सीख

मास्टर ट्रेनर द्वारा बताया गया कि मतदान के दौरान तथा मतदान के पश्चात होने वाली मतगणना के लिए अभ्यर्थी स्वयं या अपने प्रतिनिधि को पृथक-पृथक अभिकर्ता नियुक्त कर सकेगा। अभ्यर्थियों की संख्या अधिक होने पर क्रमबद्ध तरीके से मतदान कक्ष में बैठने की अनुमति एवं परिचय पत्र संबंधित पीठासीन अधिकारी द्वारा तैयार किया जाएगा। मतगणना सर्वप्रथम पंच पद हेतु क्रमबद्ध तरीके से की जाएगी। जिस वार्ड की गणना होगी उसी के अभ्यर्थी या उनका अभिकर्ता गणना कक्ष उपस्थित हो सकेगा। इसके पश्चात सरपंच पद की , फिर जनपद सदस्य की तत्पश्चात जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतगणना संपन्ना होगी। पीठासीन अधिकारी द्वारा अभ्यर्थियों को प्राप्त मतों की गणना की हस्ताक्षरित जानकारी निर्धारित प्रपत्र में दी जाएगी, लेकिन मतदान दल निर्वाचन परिणाम की घोषण नही कर सकेगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close