उमरिया। जीएसटी को तो वो खुद आज तक नहीं समझ पाए। देश के बड़े-बड़े सीए को भी जीएसटी समझ नहीं आया। व्यापारी भी जीएसटी नहीं समझ पाए और परेशान हैं। पर इसको समझने के लिए कुछ समय लगेगा और धीरे-धीरे जीएसटी सबकी समझ में आ जाएगा। यह बात बुधवार को नोटबंदी और जीएसटी पर भारतीय जनता पार्टी की संगोष्ठी में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री ओम प्रकाश धुर्वे ने कही।

आज भी बुरा हाल है गरीबों का

मंत्री धुर्वे ने कहा कि वे चित्रकूट गए थे और वहां उन्होंने देखा एक छोटे से कमरे में बड़ा परिवार रहता है जबकि ऐसे बड़े लोग भी हैं, जिनके सोने, बैठने, खाने, पढ़ने और शौचालय के अलग-अलग कमरे हैं। ये स्थिति आज भी है और इस स्थिति से निपटने के लिए ही नोटबंदी की गई, जिसका असर कुछ समय बाद दिखने लगेगा।

कोई मुस्कुराया, किसी ने नजरें चुराईं

जब मंत्री धुर्वे मंच पर खड़े होकर ये कह रहे थे कि जीएसटी उनकी समझ में नहीं आया, तब मंच पर मौजूद कई नेताओं के चहरे पर मुस्कुराहट फैल गई और कई नेता नजरें चुराने लगे। मंत्री के जाने के बाद कुछ लोगों ने आपस में चर्चा करते हुए ये भी कहा कि इस पूरे कार्यक्रम के उद्देश्य पर पानी फिर गया।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local