उमरिया (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बिना अनुमति के मुख्यालय छोड़ने पर सीईओ जनपद करकेली और सहायक संचालक मनमोहन सिंह कुशराम के विरूद्ध कलेक्टर ने कार्यवाही का प्रस्ताव कमिश्नर को भेजा है। इन दोनों अधिकारियों ने मुख्यालय छोड़ने से पहले किसी भी तरह की सूचना भी कलेक्टर को देना जरूरी नहीं समझा। आवश्यक कार्य से जब कलेक्टर ने इन दोनों ही अधिकारियों को तलब किया तब पता चला कि यह दोनों तो बिना किसी पूर्व सूचना के जबलपुर घूम रहे हैं। यह जानकारी मिलने के बाद कलेक्टर ने दोनों अधिकारियों पर कार्रवाई के लिए एक प्रस्ताव बनाकर कमिश्नर को भेज दिया है।

छीन लिया प्रभार

बिना सूचना अवकाश पर जाने वाले महिला बाल विकास अधिकारी मनमोहन सिंह कुशराम से कलेक्टर ने महिला बाल विकास विभाग का प्रभार छीन लिया है। अब यह प्रभार रजीव गुप्ता को सौंप दिया गया है। इस बारे में जानकारी देते हुए कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने बताया कि कुपोषित बच्चे के संबंध में मनमोहन सिंह कुशराम प्रभारी जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास को बुलाने पर ज्ञात हुआ कि वे बिना मुख्यालय अवकाश एवं बिना पूर्व सूचना के जबलपुर गये हुए हैं। जिससे कुपोषित बच्चे के संबंध में प्रभावी कार्यवाही का अभाव पाया गया। कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने सहायक संचालक राजीव गुप्ता महिला एवं बाल विकास उमरिया को जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास का प्रभार आगामी आदेश तक नियुक्त किया है।

कमिश्नर को भेजा कार्यवाही का प्रस्ताव

कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने जिले के ग्राम कोहका निवासी कुपोषित बच्चे साजन बैगा पुत्र केशलाल बैगा के संबंध में जानकारी प्राप्त करने के लिए प्रभारी अधिकारी महिला एवं बाल विकास मनमोहन सिंह कुशराम तथा सीईओ जनपद पंचायत करकेली आर के मण्डावी से दूरभाष पर संपर्क किया गया । संपर्क करने ंपर बताया गया कि दोनो अधिकारी बगैर मुख्यालय छोड़ने की पूर्व अनुमति के जबलपुर गये हुए हैं। कलेक्टर ने इसे गंभीरता से लेते हुए संबंधित अधिकारियों के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही करनें का प्रस्ताव आयुक्त शहडोल संभाग शहडोल को प्रेषित किया है।

आंगनबाडी कार्यकर्ता पर भी कार्यवाही

कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने ग्राम कोहका के कुपोषित 16 माह के साजन बैगा पुत्र केशलाल बैगा के जिला चिकित्सालय में उमरिया के पीआईसीयू से चले जाने के उपरांत कुपोषित बधो को पुनः पीआईसीयू या एनआरसी में भर्ती करानें के लिए प्रयास नही करनें को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता राज कुमारी राय के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही करनें के निर्देश जिला कार्यक्रम अधिकारी को दिए हैं।

अनुमति की निरस्त

जिला चिकित्सालय उमरिया के सिविल सर्जन ने सांई नाथ पैरामेडिकल के छात्रों दी गई कार्य अवलोकन की अनुमति निरस्त कर दी है। इस सबंध में उन्होंने बताया है कि पैरामेडिकल छात्र छात्राओ को जिला चिकित्सालय के कुछ विभागो में केवल चिकित्सकीय कार्य अवलोकन के लिए अनुमति प्रदान की गई थी। इस संबंध में शिकायतें मिलने के बाद इसकी अनुमति निरस्त कर दी गई है। वर्तमान में कोई भी पैरामेडिकल विद्यार्थी जिला चिकित्सालय में चिकित्सकीय कार्य के अवलोकन के लिए नही आ रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags