उमरिया(नईदुनिया प्रतिनिधि)। माइक्रो फाइलेरिया का पता लगाने के लिए रात में जांच शुरू की गई है। इस बारे में बताया गया है कि माइक्रो फाइलेरिया व्यक्तियों में रात्रि 8ः30 से 12ः30 तक ही उपरी सतह(ब्लड वेशल्स), में आते है यदि संक्रमण होगा तो रक्त पटटी में माइक्रो फाइलेरिया आसानी से देखा जा सकता है। माइक्रोफाइलेरिया पॉजिटिव होने पर डीईसी। एवं एल्वेंडॉजोल की गोली से उपचारित होकर व्यक्ति स्वस्थ हो जाएगा।

निर्देश पर कामः संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं मप्र भोपाल के निर्देशानुसार उमरिया जिले में माइक्रो फाइलेरिया नाइट ब्लड सर्वे रात्रि 8ः30 से 12ः30 तक ( 04 सेंटिनल साईट एवं 04 रेण्डम साईट) कार्य प्रोग्राम कैलेन्डर अनुसार किया जाना है। प्रभारी जिला मलेरिया अधिकारी रवि कुमार साहू ने बताया कि हॉथीपांव, हाइड्रोसील (अंडकोष में सूजन), टॉस में पॉजिटिव प्रभावित क्षेत्र में प्राथमिकता के आधार पर ( 04 सेंटिनल साईट एवं 04 रेण्डम साईट) में माइक्रो फाइलेरिया का पता लगाने के लिये रात्रि में सर्वे टीम द्वारा रक्त पटटी का निर्माण किया जा रहा है।

यह है सर्वे का कार्यक्रमः करकेली मे 21 जुलाई को चंदिया शहरी क्षेत्र में कार्यक्रम आयोजित किया गया। करकेली में 22 एवं 24 जुलाई चंदिया के नौगजा में, पाली में 26 एवं 28 जुलाई को पाली शहरी क्षेत्र में , 29 एवं 31 जुलाई को पाली प्रोजेक्ट में, मानपुर में 2 एवं 4 अगस्त को नौगवां में , 5 एवं 7 अगस्त को पतौर में , करकेली के 12 एवं 14 अगस्त को हर्रवाह में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। सर्वे टीम में धीरेन्द्र मिश्रा एमटीएस करकेली, जितेन्द्र बींझी एमटीएस पाली, चक्रधर पाठक एमटीएस मानपुर, दददू चौधरी एमआई, पीडी बारीजे एमआई, गौरीशंकर कुशवाहा फील्ड वर्कर, संतोष पटेल फील्ड वर्कर, श्रीकॉन्त द्विवेदी फील्ड वर्कर, बृजेन्द्र सिंह फील्ड वर्कर, संदीप सिंह फील्ड वर्कर शामिल हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags