उमरिया(नईदुनिया प्रतिनिधि)। मीटर रीडर किस तरह घर बैठकर मीटर रीडिंग भर रहे हैं इसका एक ताजा उदाहरण सामने आया है। ज्वालामुखी रेलवे फाटक के पास स्थित मनीष जायसवाल की दुकान का बिजली का बिल इस बात का प्रमाण है। इस बिल में मीटर की जगह किसी बंद दरवाजे का फोटो लगा दिया गया है। दरवाजा का जो फोटो लगाया गया है वह भी लकड़ी का दो पल्ले वाला दरवाजा है, जबकि दुकान शटर वाली है। मीटर की जो रीडिंग बिल में लिखकर आई है वह भी गलत है, क्योंकि मीटर में अभी भी रीडिंग कम है जबकि बिल में रीडिंग ज्यादा चढ़कर आई है। इस बारे में जानकारी देते हुए मनीष जायसवाल ने बताया कि उनके दुकान का जो बिल आया है वह काफी भ्रम पूर्ण है। लेकिन उसमें अभी तक कोई सुधार नहीं हो पाया है। बिल में काफी ज्यादा रीडिंग चढ़कर आई है और फोटो भी मीटर का नहीं लगा है। उन्होंने बताया कि उनकी दुकान में शटर लगा हुआ है जबकि बिल में मीटर की फोटो वाली जगह पर बंद दरवाजे का फोटो लग कर आया है। यह दरवाजा दो पल्ले वाला लकड़ी का दरवाजा है, जिस पर ताला लटका हुआ साफ दिखाई दे रहा है। इस बारे में जब मनीष जायसवाल ने विद्युत विभाग के अधिकारियों से चर्चा की तो उन्होंने कहा कि आप बिल जमा कर दीजिए बाद में इसे सुधार लिया जाएगा। सवाल यह उठता है कि गलत रीडिंग और घर बैठे रीडिंग दर्ज करने वाले मीटर रीडर के ऊपर कोई कार्रवाई होगी या नहीं, या इसी तरह लोगों को गलत बिल पकड़ाए जाते रहेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local