उमरिया। उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं ने बताया कि वर्ष 2021- 22 के लिए नवीन योजनाएं प्रारंभ की गई है। उमरिया जिले को 500 प्लस प्लस 25 वाली बकरी इकाई का एक एवं चारा विकास हेतु एक का लाक्ष्‌य प्राप्त हुआ है। यह योजना सभी वर्ग के लिए है।

उन्होने बताया कि 500 प्लस 25 वाली बकरी की इकाई लागत 87.30 लाख रूपये है। अधिकतम अनुदान राशि 50 लाख रूपये है। इसी तरह चार विकास के लिए साईलेज हेतु इकाई लगात 50 लाख रू0 है तथा फाड ब्लाक बनाने के लिए 85 लाख रूपये है एवं अधिकतम अनुदान राशि 50 लाख रूपये है।

50 प्रतिशत अनुदान

उक्त समस्त योजनओं में केपिटल कास्ट पर दिए जाने का प्रावधान है। योजना का लाभ लेने के लिए हितग्राही को उद्यमी मित्र पोर्टल पर ऑनलाईन आवेदन करना होगा। हितग्राही उघमी मित्र पोर्टल पर राष्ट्रीय पशुधन मिशन की लिंक पर जाकर ऑनलाईन आवेदन भरेगा तथा चाहे गए ावश्यक दस्तावेज अपलोड करेगा । यह आवेदन विभाग द्वारा परीक्षण उपरान्त बैक को फॉरवर्ड किया जायगा। बैंक द्वारा सभी दस्तावेजों का परीक्षण करने के उपरान्त सही पाये जाने पर ऋण हेतु प्रकरण स्वीकृत करते हुए स्वीकृति आदेश जारी करेगा। बैंक द्वारा स्वीकृत आदेश जारी किए जाने के पश्चात विभाग द्वारा ऐसे समस्त प्रकरणों की अभीस्वीकृति राज्य स्तरीय कार्यकारी समिति (एसएलईसी) में प्राप्त कर सभी प्रस्ताव अनुदान की स्वीकृति के लिए भारत सरकार को ऑनलाईन अग्रेषित करेगा। भारत सरकार द्वारा एसएलईसी से स्वीकृत उक्त सभी प्रस्तावों पर नियमानुसार अनुदान राशि जारी कर सीधे ऋण स्वीकृत कर्ता बैंक को भेजेगी। भारत सरकार से अनुदान राशि प्राप्त होने पर बैंक द्वारा ऋण वितरण की कार्यवाही की जावेगी।हितग्राही को स्वीकृत अनुदान राशि का भुगतान दो किस्तों में किया जाएगा। पहले ऋण की प्रथम किस्त प्राप्त होने पर तथा दूसरी परियोजना पूर्ण होने पर यह अनुदान राशि बैक इंडेड होगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local