उमरिया (नईदुनिया प्रतिनिधि)। उमरिया जिले के अंतिम छोर डिंडोरी जिले की सीमा पर बसे ग्राम ठूठा कुदरी से निकलने वाली घोड़छत्र नदी के पुनर्जीवन की दिशा में अभी तक एक कदम भी आगे नहीं ब़ढ़ाया गया है। बारिश के दिनों में यह नदी पूरी उफान पर रहती है और जिले के 50 से ज्यादा गांव के लोगों को अपने शीतल जल से लाभान्वित करती है। अमरकंटक से निकलने वाली जोहिला नदी की सहायक नदी घोड़छत्र पुनर्जीवन योजना की बाट जोह रही है लेकिन अभी तक यहां इसके लिए कोई कार्य नहीं हुआ है।

धनवाही में बना डैम

इस नदी के ऊपर ग्राम पंचायत धनवाही में डब्ल्यूआरडी ने एक ब़ड़ा डैम जरूर बनाया है लेकिन वह डैम भी काफी पुराना हो गया है। इस नदी के कारण डैम में अच्छा-खासा पानी रुकता है और रबी के सीजन में किसानों को सिंचाई के लिए पानी मिल जाता है। यदि इस नदी का संरक्षण तरीके से किया जाए तो निश्चित तौर पर यह नदी अन्य ग्रामों को भी काफी लाभ पहुंचा सकती है।

यह है रास्ता

डिंडोरी जिले के रानी दादर और उमरिया जिले के ठूठा कुदरी के बीच से निकलने वाली यह नदी अमोल खोह की पहा़िड़यों से नीचे गिरती है। इसके पश्चात यह नदी रहठा, कंचनपुर, घुलघुली, देवरी कला, नरोजाबाद होते हुए चेचरिया में जोहिला नदी में समाहित हो जाती है। जोहिला नदी में जहां घोड़छत्र नदी समाहित होती है वहीं पास ही उचेहरा धाम की मां ज्वाला देवी का मंदिर भी स्थित है। इस नदी में ही ज्वाला धाम के जवारे भी विसर्जित किए जाते हैं।

हो रहा है उत्खनन

इस नदी से कई जगह पर पत्थरों का अवैध उत्खनन किया जा रहा है। घोड़छत्र नदी के पत्थर काफी मजबूत और अच्छे माने जाते हैं। यही कारण है कि आस पास होने वाले निर्माण कार्य में इस नदी से निकाले जाने वाले पत्थर ही इस्तेमाल किए जाते हैं। खास बात यह है कि ज्यादातर स्थानों पर अवैध रूप से पत्थरों का उत्खनन किया जाता है। जिस पर कभी कभार कार्यवाही भी होती है।

कमिश्नर ने दिए निर्देश

शहडोल कमिश्नर राजीव शर्मा ने हाल ही में नदियों के सुधार के लिए निर्देश भी जारी किए हैं। उन्होंने नदियों में पानी रोकने के लिए भी जिला प्रशासन को कहां है। नईदुनिया से चर्चा करते हुए कमिश्नर राजीव शर्मा ने कहा कि नदियों का उत्थान आवश्यक है। क्योंकि नदियां छोटे-छोटे क्षेत्र की ब़ड़ी जीवन रेखाएं हैं। यदि नदियों को सुरक्षित नहीं रखा जाएगा तो जन जीवन प्रभावित हो जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local