विदिशा(नवदुनिया प्रतिनिधि)।

सात साल बाद जिला पंचायत के नव निर्वाचित अध्यक्ष और उपाध्यक्ष सहित सदस्यों ने सोमवार को शपथ गृहण के साथ कार्यभार गृहण किया। कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने जिला पंचायत अध्यक्ष गीता कैलाश रघुवंशी, उपाध्यक्ष दरयाब सिंह और शेष 17 सदस्यों को पद गोपनीयता की शपथ दिलाई। मंच से सभी अतिथियों ने संबोधित किया। इस दौरान विदिशा विधायक शशांक भार्गव ने संबोधित करते हुए कहा कि पूर्व जिला पंचायत जनप्रतिनिधियों ने उनकी विधानसभा क्षेत्र के साथ भेदभाव किया था, विदिशा ब्लाक में सड़कें स्वीकृत नहीं होती थीं। लेकिन अब नवनिर्वाचित अध्यक्ष से अनुरोध है कि वे बिना भेदभाव के एक एक गांव में सरकारी योजनाओं का लाभ लोगों को दिलाएं। अब वे केवल एक वार्ड की सदस्य नहीं बल्कि पूरे जिले की अध्यक्ष हैं अब पूरे जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के विकास की जिम्मेदारी है। विधायक के इस संबोधन के बाद जब जिपं अध्यक्ष गीता रघुवंशी मंच पर आईं तो उन्होंने विधायक को आश्वासन दिया कि वे विकास कार्य को लेकर भेदभाव नहीं होने देंगी। उन्होंने कहा कि यहां कोई भाजपा, कांग्रेस नहीं बल्कि दलगत राजनीति से उठकर सभी सदस्य एक परिवार की तरह काम करेंगे। जिपं अध्यक्ष गीता रघुवंशी अपना भाषण लिखकर लाईं थीं लेकिन विधायक की बात का जवाब उन्होंने तत्काल दिया। उनकी बात सुनकर आडिटोरियम में तालियां गूंजने लगीं। मंच से कलेक्टर उमाशंकर भार्गव, पूर्व नपाध्यक्ष मुकेश टंडन, पूर्व जिपं अध्यक्ष तोरणसिंह दांगी, श्यामसुंदर शर्मा ने भी संबोधित किया। इस दौरान पूर्व वित्तमंत्री राघवजी भाई, पूर्व सांसद लक्ष्‌मीनारायण यादव, नपाअध्यक्ष प्रतिनिधि राकेश शर्मा, एसपी मोनिका शुक्ला, जिपं सीईओ डा योगेश भरसट उपस्थित रहे।

सात साल पहले अध्यक्ष बनते बनते रह गयाः कैलाश

जिपं अध्यक्ष गीता रघुवंशी के पति कैलाश रघुवंशी ने मंच से संबोधित करते हुए कहा कि इस दिन का वे लंबे समय से इंतजार कर रहे थे। सात साल पहले वे अध्यक्ष बनते बनते रह गए थे लेकिन आज वह इंतजार पूरा हो गया। इस बात आडिटोरियम में बैठे लोग जोर जोर से हसने लगे। कैलाश ने कहा कि सरकार कई योजनाएं चलती हैं यदि उनका अच्छे से क्रियान्वयन हो तो जिले की तस्वीर ही बदल जाए लेकिन गांव में पानी की लाइन डलती है वह एक माह में ध्वस्त् हो जाती है, सीसी सड़क सालभर नहीं टिकती। अब हम सब की जिम्मेदारी है कि ये काम गुणवत्ता पूर्ण किए जाएं। रविंद्रनाथ टैगोर आडिटोरियम में हुए कार्यक्रम में अतिथि के तौर पर प्रभारीमंत्री विश्वास सारंग को आना था लेकिन किसी कारण वह नहीं आए। विदिशा सांसद और जिले के भाजपा विधायक भी कार्यक्रम में नहीं दिखाई दिए।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close