गंजबासौदा। सुबह से हो रही बारिश करीब दोपहर 11 बजे तक होती रही। इसके बाद बारिश बंद हो गई। कुछ देर बाद बाजार की सड़कों पर खरीदारी करने वालों की भीड़ लग गई। रेलवे स्टेशन से लेकर नेहरू चौक तक लगी राखी की दुकानों पर महिलाओं और युवतियों ने अपने भाइयों की पसंद की राखियां खरीदी। दोपहर से लेकर देर शाम तक त्योहार के चलते बाजार में रोनक रही। वहीं कई महिलाएं अपनी सुसराल से अपने मायके के लिए बसों व ट्रेनों से रवाना हुईं। बुधवार को आने-जाने वाले लोगों की भीड़ रेलवे स्टेशन पर देखने को मिली।

आज महिलाओं और युवतियों का सबसे पसंदीदा त्योहार रक्षाबंधन का पर्व बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। इस त्योहार को लेकर महिलाओं और युवतियों में काफी उत्साह रहता है। कई दिनों पहले से रक्षाबंधन त्योहार की तैयारी की जाती है। बुधवार को त्याजहार से एक दिन पहले बाजार में खरीदारी करने वालों की संख्या काफी रहीछ बाजार में लगी राखी, रुमाल,नारियल,मिठाई, कपड़ों की दुकानों पर पहुंचकर लोगों ने काफी खरीदारी की। रेलवे स्टेशन से लेकर नेहरू चौक तक करीब 100 से अधिक राखी की अस्थाई दुकानें लगाई गई। वहीं त्योहार के चलते कई व्यापारियों ने अपनी दुकानों में लोगों की पसंद की सामग्री सजा रखी थी।

बॉक्स

बस स्टैंड और स्टेशन पर रही भीड़

बुधवार को शहर के नवीन बस स्टैेंड और रेलवे स्टेशन पर शहर से बाहर जाने वाले और बाहर से शहर में आने वाले लोगों की भीड़ रही। इस दौरान अधिकांश बसें क्षमता से अधिक भराकर जा रही थीं। वहीं बीना से आने वाली और बीना की ओर जाने वाली ट्रेनों में भी काफी भीड़ देखने को मिली। सुबह से लेकर देर रात तक रेलवे स्टेशन पर लोगों की भीड़ रही। वहीं कई लोगों ने अपने निजी वाहनों से भी यात्रा की।

बॉक्स

ऑटो रिक्शा में भी रही भीड़

रक्षाबंधन त्योहार के चलते मंगलवार से ही शहर में चलने वाले ऑटो रिक्शा में आने जाने वाले लोगों की संख्या में इजाफा देखने को मिला। बारिश होने के चलते कई लोगों ने आसपास के गांव जाने के लिए बड़े आटो का सहारा लिया। वहीं गुरुवार को भी दिन भर भीड़ रहेगी।

गंजबासौदा-फोटो04

गंजबासौदा- रेलवे स्टेशन पर आने जाने वाले लोगों की भीड़।

गंजबासौदा-फोटो05

गंजबासौदा- अपनी पसंद की राखी खरीदती महिलाएं व युवतियां।

000000000000000000000000

मंडी में हुई 758 बोरों की आवक

गंजबासौदा। बुधवार को पुरानी कृषि उपज मंडी में बारिश का असर देखने को मिला। मंडी में नीलामी के दौरान 758 बोरों की आवक हुई। जिसमें शरबती 2000 से 2200 ,सुनहारा 1980 से 2098 ,चना 2990 से 4010, सोयाबीन 2950 से 3588, तेवड़ा 3005 से 3660, मसूर 2640 से 4125 सरसों 3480, उड़द 2410 से 3700 ,जौ 1770 के भाव रहे।

00000000

तीन घंटे तक लगा जाम,लोग हुए परेशान

गंजबासौदा। रक्षाबंधन से एक दिन पहले शहर के लोगों को बुधवार को जाम का सामना करना पड़ा। बुधवार को बरेठ रोड़, जय स्तंभ चौराहे से सावरकर चौक तक वाहनों का जाम लगा रहा। करीब एक किलोमीटर तक लगे जाम की वजह से कई लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। बताया जाता है कि बारिश जैसे ही थमी उसके बाद बाजार में खरीदारी करने वाले लोगों और परासरी नदी में बारिश का पानी बढ़ जाने से पुलिया के ऊपर करीब तीन से चार फीट पानी आ जाने से उक्त मार्ग बंद हो गया था। जिस वजह से उस मार्ग से निकलने वाले अधिकांश वाहन भी जय स्तंभ चौराहे वाले मार्ग से गुजर रहे थे, इस वजह से भी वाहनों का जाम लगा रहा।

बुधवार को शहर में अलग-अलग सड़कों पर अलग -अलग समय पर जाम लगा। बताया जाता है बरेठ रोड पर दोपहर एक बजे और जय स्तंभ चौराहे पर भी उसी समय वाहनों का जाम लगा रहा। इस जाम में कई वाहन चालक करीब तीन घंटे तक फेसे रहे शहर की सड़कों पर जाम के दौरान कई दो पहिया वाहन चालक और कई चार पहिया वाहन भी काफी देर तक फसे रहे। गोलू कुर्मी ने बताया कि वह दोपहर एक बजे पचमा स्थित अपने घर खाना खाने के लिए निकले थे। रोजना वह दस मिनट में अपने घर पहुंच जाते थे, लेकिन बुधवार को शहर की सड़कों पर लगे जाम की वजह से करीब एक घंटे में अपने घर तक पहुंच सकें। वहीं राजेश ने बताया कि वह सावरकर चौक काम से जा रहे थे, लेकिन जाम की वजह से वह काफी समय तक जाम में ही फंसे रहे। उन्होंने बताया कि करीब डेढ़ घंटे तक वह जाम में फसे रहे। उसी मार्ग से एक धार्मिक यात्रा भी निकल रही थी। इस वजह से भी जाम लग गया। वहीं दोपहर से लेकर देर शाम तक रेलवे स्टेशन से लेकर जय स्तंभ चौराहे तक जाम लगा रहा।

गंजबासौदा-फोटो06

गंजबासौदा- शहर की सड़कों पर लगे जाम में फसे लोग।

0000000000000000000000000000

रोकना हैः रक्षाबंधन को लेकर स्कूल में हुई राखी व मेंहदी प्रतियोगिता

गंजबासौदा। विगत दिनों पहले बैहलोट स्थित स्कूल ऑफ ऐक्सीलेंस में रक्षाबंधन पर्व को लेकर राखी मेकिंग और मेंहदी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें स्कूल के छोटे-छोटे बच्चों ने विभिन्ना सामग्रियो जैसे-रेशम के धागे,रूई,वड्स,रोरी,चावल,सीप,मोति,थर्माकोल वाल्स,कॉच की कटिंग,सितारे,पेपर रोल,फेवीकॉल,आदि से सुदंर-सुंदर राखीयां बनाकर प्रथम, द्वितीय स्थान प्राप्त किया। प्रतियोगिता में 100 बच्चों ने भाग लिया जिसमें मेंहदी प्रतियोगिता जूनियर वर्ग से शिवांगी प्रजापति कक्षा-5 ने प्रथम एवं देविका रघुवंशी कक्षा-6 ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। सीनियर वर्ग से स्नेहा शर्मा कक्षा-10 ने प्रथम स्थान एवं स्नेहा रघुवंशी कक्षा-9 ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। तथा राखी मेकिंग में सब-जूनियर वर्ग से रिया कुशवाह कक्षा-4 ने प्रथम स्थान एवं प्रियंका शर्मा कक्षा-3 ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। जूनियर वर्ग से गरिमा दांगी कक्षा-7 ने प्रथम एवं प्रासी विश्वकर्मा कक्षा-6 ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। सीनियर वर्ग से तान्या लोधी कक्षा-9 ने प्रथम , स्वीटी दांगी कक्षा-9 एवं तथा इशिका रघुवंशी कक्षा-8 ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

रक्षाबंधन के अवसर पर बच्चों ने जिन राखीयों को अपने हाथों से बनाया था उन्हे अपने-अपने भाइयों की कलाई पर बाधने की ईच्छा जताई एवं रक्षाबंधन के त्यौहार को उत्सव के रूप में विद्यालय में मानाया गया। विद्यालय के संचालक रूपेश लाड ने बच्चों को फ्रेडशिप वेल्ट जैसे पाश्चात्य संस्कृति से दूर रहकर भारतीय संस्कृति के मर्यादा पूर्ण भाई-बहन के त्यौहार की आज आवश्यकता पर बल देते हुए रक्षा सूत्र के त्यौहारो पर बल देते हुए रक्षा के संकल्प का महत्व बताया। इस अवसर पर विद्यालय परिवार कमलेश शर्मा ,कमलकिशोर शर्मा,अमित शर्मा, तुलसीराम दांगी,प्रदीप,रितू,दीक्षा,स्वेता,भारती,दिव्या,सुरभी,सिखा,शारदा,रानी,मीनाक्षी,सवीना वानो,नेहा वर्मा,लक्ष्मी आादि एवं सभी छात्र-छात्राय उपस्थित थे।

गंजबासौदा-फोटो07

गंजबासौदा- ऐक्सीलेंस स्कूल में प्रतियोगिता के दौरान राखी बनाती स्कूल की छात्राएं।