दूसरे दिन भी नदी-नाले उफान पर, अब तक 794 एमएम बारिश

क्रॉसर- पिछले 24 घंटों में गंजबासौदा तहसील में हुई 131.4 एमएम बारिश

गंजबासौदा। लगातार दो दिनों से हो रही बारिश बुधवार की सुबह 11 बजे थम गई। लगातार 24 घंटे से अधिक हुई बारिश से शहर में अनेकों स्थानों पर पानी भरा गया। जिससे कई लोगों को परेशानी हुई, वहीं लगातार हो रही बारिश की वजह से बेतवा नदी और उदयपुर की केवटन नदी में जल स्तर बढ़ जाने से नदी उफान पर आ गई। नदी के पुुल पर करीब पांच फीट पानी आ जाने से बासौदा का मार्ग बंद हो गया। वहीं बासौदा-अंबानगर मार्ग भी बंद रहा। कई लोग नदी के पुल पर पानी को देखने के लिए पहुंचे। पिछले 24 घंटों में गंजबासौदा तहसील में 131.4 एमएम बारिश हुई है, जबकि 1 जून से अब तक करीब 794 एमएम बारिश हो चुकी है, जो जिले में सबसे अधिक है।

रविवार की शाम से शुरू हुई बारिश सोमवार को पूरे दिन रुक-रुककर जारी रही। कभी तेज तो कभी धीमी गति से बारिश का दौर पूरे दिन चला। वहीं पूरी रात को भी बारिश हुई। मंगलवार की सुबह करीब 11 बजे के बाद बारिश थमी। पिछले चौबीस घंटे से हुई लगातार बारिश की वजह से आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। कई लोग बारिश की वजह से अपने काम नहीं निपटा पाए। कई लोगों ने घरों में बैठकर ही अपना दिन काटा। लगातार हो रही बाारिश से पूरे शहर के आसपास पानी ही पानी भरा गया था। बारिश की वजह से अधिकांश नाले उफान पर आ गए। वहीं बारिश का पानी शहर के कई हिस्सों में भरा गाया था, जिससे कई लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। सड़कों पर पानी ही पानी नजर आ रहा था। कई लोगों को इससे परेशानी हुई। वहीं बारिश की वजह से बाजार में खरीदारी करने वालों की कमी देखी गई।

शहर में पिछले दो दिनों में हुई बारिश से बेतवा नदी में जल स्तर बढ़ गया। पुल से करीब एक फीट नीचे पानी बह रहा था। वहीं उदयपुर के पास केवटन नदी में भी जल स्तर बढ़ जाने से नदी के पुल पर करीब 5 फीट पानी आ गया था। जिसे देखने के लिए कई लोग नदी के पुल पर पहुंचे। वहीं नदी में पानी अधिक हो जाने से उदयपुर और बासौदा मार्ग बंद हो गया था। जिससे कई लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। खेतों में पानी ही पानी नजर आ रहा था। खेतों का पानी बहते हुए आसपास के नालों में भरा रहा था। बारिश का पानी कई स्कूलों और ऑफिसों के परिसर में भी भरा गया। लगातार हो रही बारिश से सोयाबीन और धान की फसल को काफी लाभ मिल रहा है। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले दो दिनों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। शहर में नपा के द्वारा बारिश के पहले तैयारी नहीं किए जाने का खामियाजा शहर की जनता को भुगतना पड़ रहा है।

बॉक्स

शहर के कई वार्डों में भराया पानी

लगातार दो दिनों से हो रही बारिश की वजह से शहर के वार्डों में बुधवार को पानी भरा गया था। कई वार्ड की गलियां जलमग्न हो गई थीं। लोगों ने इसकी जानकारी नगर पालिका दी। सूचना मिलते ही नपा के कर्मचारी उन वार्डों में पहुंचे जहां बारिश का पनी भरा हुआ था, लेकिन किसी भी कर्मचारी पर बाढ़ के दौरान उपयोग में आने वाली सामग्री नहीं थी। बारिश की वजह से शहर की कई पुलियां भी उफान पर आ गई थी। जिस वजह से इन गलियों से आवगमन पूरी तरह से बंद हो गया था। शहर के चारों और सालों पुराने नाले बारिश के पानी की वजह से उफान पर थे।

गंजबासौदा-फोटो 01

गंजबासौदा।-इस तरह से गलियों में भरा बारिश का पानी।

गंजबासौदा-फोटो02

गंजबासौदा।- शहर के बीचों बीच खाली मैदान में भरा पानी।

000000000000000000000000000000

कॉलेज परिसर में भराया पानी, एनएसयूआई ने किया प्रदर्शन

गंजबासौदा। एसजीएस कॉलेज परिसर में बारिश के पानी की निकासी नहीं होने से एनएसयूआई के सदस्यों ने बुधवार को पानी में खड़े होकर प्रदर्शन किया। उनकी मांग थी कि कई बार कॉलेज प्रबंधन को इस बारे में बताया गया, लेकिन अभी तक कॉलेज प्रबंधन ने बारिश के पानी की निकासी के लिए कोई कदम नहीं उठाया। कॉलेज परिसर में भरे पानी की वजह से कॉलेज के छात्र कॉलेज में नहीं पहुंच पा रहे हैं। मालूम हो कि पिछले दिनों राष्ट्रीय बाल आयोग के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो बासौदा आए थे, उस समय भी कॉलेज के छात्रों ने जल निकासी को लेकर ज्ञापन भी दिया था।

शासकीय एसजीएस कॉलेज में परिसर में बारिश के दौरान पानी भरा जाता है। पिछले कई सालों से यही समस्या चली आ रही है। हमेशा ही बारिश के पूरे सीजन में कॉलेज परिसर में पानी की निकासी नहीं होने के कारण पानी परिसर में भरा रहता है, लेकिन कॉलेज प्रबंधन हमेशा ही टालमटोल करता है। प्रबंधन ने कॉलेज परिसर में पानी की निकासी के लिए पहल नहीं की और ना ही नगरपालिका और स्थानीय प्रशासन ने इस ओर कोई ध्यान दिया। हालात यह है कि इस बार बारिश काफी हो रही है। लगातार हो रही बारिश से कॉलेज परिसर में चारों ओर पानी भरा गया है। कॉलेज भवन से मैन रोड का संपर्क टूट चुका है। कॉलेज के छात्र और स्टाफ को कॉलेज में पहुंचने के लिए पत्थरों के सहारे जाना पड़ता है। इसी समस्या को लेकर बुधवार को एनएसयूआई के छात्रों ने प्रदर्शन किया और कॉलेज परिसर में भरा रहे पानी की निकासी की मांग की। इस दौरान कई छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

गंजबासौदा-फोटो

गंजबासौदा- पानी में खड़े होकर प्रदर्शन करते कॉलेज के छात्र।

000000000000000000000

कार्यक्रम स्थल पर भराया पानी

गंजबासौदा। स्वतंत्रता दिवस पर होने वाले मुख्य आयोजन को लेकर तहसील परिसर लाल परेड ग्राउंड पर पिछले 2 दिनों से तैयारी चल रही थी। बुधवार को पूरे परिसर में टेंट लगा दिया है, लेकिन बारिश का पानी मैदान में कई जगह भरा हुआ है, जिससे आयोजन के दौरान परेशानी हो सकती है। यहां भी जल निकासी की कोई व्यवस्था नहीं है। इस वजह से परिसर में पानी भर जाने से परिसर में गड्ढे ही गड्ढे दिखाई दे रहे हैं।

0000000000000000000000000000

बिलासपुर ट्रेन के इंजन में आई खराबी, काफी देर तक खड़ी रही

गंजबासौदा। बीना से भोपाल की ओर जाने वाली बिलासपुर ट्रेन जैसे ही बासौदा स्टेशन से विदिशा के लिए रवाना हुई तो कुछ दूर पहुंचने पर ट्रेन के इंजन में कुछ खराबी आ गई। ट्रेन कुछ देर तक विदिशा की ओर जाने वाले ट्रैक पर खड़ी रही। इस कारण अन्य ट्रेनों को भी बासौदा स्टेशन पर रोक दिया था। सुधार कार्य के बाद उसे विदिशा की ओर रवाना किया गया। इस संबंध में स्टेशन मास्टर एसके पाल का कहना है कि ट्रेन में क्या खराबी आई थी, मुझे जानकारी नहीं है।

स्वतंत्रता दिवस पर वाहन रैली आज

गंजबासौदा। बॉडी केयर हेल्थ क्लब द्वारा प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर सुबह 9 बजे विशाल वाहन रैली निकाली जाएगी। यह रैली नगर के मुख्य मार्गों से होकर गुजरेगी। इस दौरान चौराहे के बीच में स्थापित महापुरुषों की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण किया जाएगा। रैली का समापन वापस हेल्थ क्लब परिसर स्टेशन रोड पर किया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network