विदिशा। (नवदुनिया प्रतिनिध)। गणतंत्र दिवस से पहले स्थानीय रेलवे स्टेशन पर 100 फीड की ऊंचाई पर तिरंगा लहराने की तैयारी चल रही है। लोगों में राष्ट्र प्रेम की भावना जगाने के उद्वेश्य से लगाया जा रहा यह तिरंगा 20 से 25 किलोमीटर दूर से स्टेशन आने का आभास भी यात्रियों को कराएगा। इसके अलावा मुख्य द्वार का सुंदरीकरण किया जा रहा है। यदि सब कुछ ठीक रहा तो 26 जनवरी को रेलवे स्टेशन के बाहर का मुख्य द्वार भी बदला-बदला नजर आएगा।

बता दें कि रेलवे स्टेशन के मुख्य द्वार के बाहर सिद्वेश्वरी मंदिर के ठीक सामने रेलवे द्वारा 30 फीट लंबा और 20 फीट चौड़ा 100 फीट ऊपर तिरंगा झंडा लगाया जा रहा है। इसके लिए पिछले करीब एक माह से तैयारियां चल रही हैं जो अब अंतिम चरण में हैं। इसके लिए 100 फीट लंबा पोल लगाया गया है। खास बात यह है कि पोल के पास दो छोटे पोल भी लगाए गए हैं जो तिरंगे पर रात में चमकती हुई रंगबिरंगी रोशनी करेंगे। रेलवे स्टेशन के सूत्र बताते हैं कि 100 फीट की ऊंचाई पर कम ही रेलवे स्टेशनों पर झंडा लगाया गया है। रेलवे स्टेशनों पर तिरंगा लगाने का कारण यात्रियों सहित अन्य आने-जाने वाले लोगों के अंदर राष्ट्रप्रेम की भावना जाग्रत करना है।

शहर में पहला तिरंगा होगा इतना ऊंचा

शहर में अलग-अलग दलों, पार्टियों और सामाजिक सस्थाओं द्वारा गणतंत्र दिवस और 15 अगस्त के मौके पर ध्वजारोहण किए जाते हैं। जिनकी ऊंचाई अधिक नहीं है। शहर में पहली बार इतनी ऊंचाई पर तिरंगा लगाया जा रहा है। जिससे स्टेशन परिसर की खूबसूरती भी बढ़ जाएगी। खास बात यह रहेगी कि इस तिरंगे को एक बार लगा देने के बाद बार-बार उतारने और लगाने की भी झंझट नहीं रहेगी।

मुख्य द्वार का हो रहा सुंदरीकरण

बारिश के कारण रेलवे का मुख्य द्वार सहित दीवारे काली पढ़ गई थीं। दीवारों में लगाए गए टाइल्स भी गिरने लगे थे। जिसके चलते प्रवेश द्वार भद्दा दिखाई देने लगा था, लेकिन अब रेलवे द्वारा दीवारों की सफाई कराकर नये टाइल्स लगाकर सुंदरीकरण का कार्य भी कराया जा रहा है। बताया जा रहा है कि जल्दी ही बाहर के ग्राउंड को भी दुरूस्त कराया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local