विदिशा( नवदुनिया प्रतिनिधि)। 17 जनवरी से शुरू हो रहे प्रतिभा पर्व को लेकर स्कूल के शिक्षकों में असमंजस बना हुआ था। गुरूवार को जिला शिक्षा केंद्र के समन्वयक आरपी जाटव ने जिले भर के बीआरसी की ंआनलाइन बैठक ली और उनके अमसमंजस को दूर किया। उन्होंने कहा कि यदि कोरोना संक्रमण के चलते स्कूल बंद होते हैं तो बच्चों को उत्तरपुस्तिकाएं और प्रश्न पत्र उपलब्ध करा दिए जाएंगे। आठ दिन बाद शिक्षक घर-घर जाकर बच्चों से उत्तरपुस्तिकाएं कलेक्ट कर उनका मूल्यांकर करेंगे।

एपीसी कमलेश दुबे ने बताया कि जिस तरह से लगातार कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है उससे कक्षा एक से आठ तक के स्कूल बंद करने के भी आदेश आ सकते हैं जिसके चलते पिछले साल की तरह ही आनलाइन पढ़ाई कराई जाएगी। बैठक में निर्देश दिए गए हैं कि सभी बच्चों का स्कूल स्तर पर डाटा तैयार किया जाए जिसमें यह जानकारी होना चाहिए कि कितने बच्चों पर स्मार्ट फोन, रेडियो और टेली विजन हैं। ऐसे कितने बच्चे हैं जिन पर स्मार्ट फोन नहीं है। पिछले साल क्या विकल्प था। यह सभी तैयारी पहले से कराई जा रही हैं। वहीं 17 जनवरी से प्रतिभा पर्व शुरू होगा। यदि तब तक सब कुछ ठीक रहा तो स्कूल स्तर पर माध्यमिक स्तर के बच्चों का सुबह 9 से 11.30 बजे तक और प्राथमिक का 12 से 2.30 बजे तक परीक्षा कराई जाएगी। यदि छुट्टियां लगती हैं तो फिर बच्चों को एक साथ उत्तरपुस्तिकाएं प्रदान कर दी जाएगीं। जिसमें प्रश्न पत्र भी शामिल रहेगा। आठ दिन बाद शिक्षक घर-घर जाकर उत्तरपुस्तिकाएं एकत्रित करेंगें। उन्होंने प्रतिभा पर्व में एक लाख 39 हजार 690 बच्चे शामिल होंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local