गंजबासौदा।(नवदुनिया न्यूज)। कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के की दस्तक के साथ ही शहर में चल रहे मेला पर प्रतिबंध लग गया। बुधवार को आदेश जारी हुए लेकिन गुरुवार को कई लोग बस स्टैंड पर चल रहे मेले में सैर करने पहुंच गए। नवीन बस स्टैंड पर चल रहे मेले को एक दिन पहले ही निरस्त करने का फैसला ले लिया था। जैसे ही शहर के आम लोगों को गुरुवार की सुबह मेला निरस्त होने की सूचना मिली तो बड़ी संख्या में लोग मेले के अंतिम दिन मेला देखने और सामान की खरीदारी करने के लिए पहुंच गए। जैसी ही प्रशासन को सूचना लगी इसके बाद दोपहर के समय नगर पालिका की टीम, पुलिस ने मिलकर मेला परिसर में लगी दुकानों को बंद कराते हुए मेला परिसर में मौजूद लोगों को बाहर कर दिया। हालाकि उसके बाबजूद भी कई लोग मेले में सामान की खरीदारी करने के लिए पहुंचे। प्रशासन द्वारा जिस समय लोगों को मेले से बाहर किया जा रहा था उस समय मेला परिसर में अफरा तफरी का माहौल देखने को मिला। इस दौरान भगदड़ में कई लोगों के मोबाइल तक गुम हो गए थे।

पिछले कुछ दिनों से शहर में कोरोना मरीजों के मिलने का दौर जारी है। अब तक शहर में करीब 29 लोग कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं। शहर में कोरोना संक्रमण को बढ़ता देख स्थानीय प्रशासन ने सरकार के आदेश के बाद मेले को निरस्त करने का फैसला लिया था। उसके बाद सभी मेला व्यापारियों ने देर रात को जय स्तंभ चौक पर चक्का जाम कर दिया था। वहीं गुरुवार को मेले का आखिर दिन होने के चलते सुबह से ही बड़ी संख्या में महिलाएं,युवती,पुरुष और बच्चे मेला देखने के लिए पहुंचे। मेला परिसर मे इतनी भीड़ थी की चारो ओर लोगों की भीड़ ही भीड़ दिखाई दे रही थी जहां कोरोना नियमों का कोई पालन नहीं हो रहा था।

बॉक्स

नपा व पुलिस ने सख्ती से लोगों को किया बाहर

मेला निरस्त होने के बाबजूद भी शहर के लोग बड़ी संख्या में मेला देखने के लिए पहुंचे थे। मेला में बढ़ती हुई भीड़ को रोकने के लिए नगर पालिका और पुलिस ने सख्ती से मेला देखने आए लोगों को मेले से बाहर किया। लेकिन उसके बाद भी लोग नहीं मान रहे थे। तब जाकर पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए लोगों को मेला परिसर से बाहर किया। इस दौरान मची भगदड़ में कई लोगों के मोबाइल तो किसी का बच्चा खो गया था। करीब दो घंटे तक मेला परिसर में भगदड़ मची रही।

बॉक्स

मेले की दुकानों को कराया बंद

मेला निरस्त होने की सूचना लगातार नपा के द्वारा व्यापारियों और आम लोगों को दी जा रही थी। लेकिन उसके बाद भी कई व्यापारी अपना व्यापार कर रहे थे। इस वजह से दोपहर दो बजे के लगभग पुलिस व नपा की टीम ने पूरे मेला परिसर में घूमकर व्यापारियों की दुकानों को बंद कराया और व्यापारियों से लगातार कहा गया कि मेला बंद हो गया है। सभी व्यापारी अपनी दुकानें बंद करना शुरु करें।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local