गंजबासौदा। जिले की गंजबासौदा तहसील में सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी के पद पर पदस्थ गोविंद दास आर्य एवं दिनेश असैया विदिशा जिले में पहले और दूसरे स्थान पर रहे हैं। मध्य प्रदेश लोक अभियोजन विभाग द्वारा बनाए जाने वाली प्रदेश के जिलेवार श्रेष्ठ अधिकारियों की सूची में विदिशा जिले में अगस्त महीने में किए गए कार्यों के आधार पर सभी अभियोजन अधिकारियों में से एसडीओपी गोविंदा दास आर्य और दिनेश असैया प्रथम और दूसरे स्थान पर रहे हैं। मालूम हो कि अभियोजन विभाग के डीजीपी राजेंद्र कुमार साहन द्वारा सभी अधिकारियों की कार्यक्षमता,गुणवत्ता और उनके द्वारा प्रतिदिन न्यायालय एवं अभियोजन हितार्थ किए जाने वाले कार्य के हिसाब से रेटिंग के लिए ई प्रोसिटीक्यूशन ऐप को आरंभ कराया है। उक्त ऐप में की गई एंट्री, गवाही ,सजा, प्रतिशत न्यायालय में लगाए गए आवेदन के आधार पर पत्र पर अगस्त महीने में प्रथम और द्वितीय स्थान पर रहे हैं।

0000000000000000000000000000000000000

रेलवे ने गयाजी के लिए चलाई स्पेशल ट्रेन

गंजबासौदा। रेलवे विभाग ने पितृपक्ष के दौरान गया जी जाने वाले लोगों के लिए 15 दिनों के लिए एक स्पेशल ट्रेन चलाई है। जानकारी के अनुसार हबीबगंज से विदिशा, गंजबासौदा, बीना होते हुए गया जी के लिए यह ट्रेन डाउन रोड़ गुरुवार, मंगलवार, रविवार, शुक्रवार को गयाजी के लिए रवाना होगी यह ट्रेन दोपहर 15ः53 पर आएगी और 15ः55 पर बीना के लिए रवाना होगी। वही वापस आने के लिए अपरोड गयाजी से हबीबगंज आने के लिए यह ट्रेन सोमवार, शनिवार ,गुरुवार को रहेगी इस ट्रेन का आगमन 10ः45 पर बासौदा स्टेशन पर होगा। मालूम हो कि गणेश महोत्सव का समापन अनंत चतुर्दशी को हो गया है उसके दूसरे ही दिन से पितृपक्ष शुरू हो गए हैं। जो व्यक्ति पितृपक्ष के दौरान गयाजी जाकर अपने पूर्वजों के लिए पूजा-अर्चना करना चाहते हैं उन लोगों के यह ट्रेन काफी लाभदायक रहेगी यह ट्रेन केवल प्रतिपक्ष के अवसर पर ही चलेगी।

00000000000000000000000000000

बारिश के चलते मकान हुआ धराशायी

गंजबासौदा। गणेशपुरा वार्ड क्रमांक 18 के निवासी राजेश पुत्र मूलचंद चौरसिया ने बताया कि पिछले 5 दिनों में नगर में हो रही भारी बारिश के चलते शुक्रवार की रात करीब 2 बजे उनका मकान के बगल का हिस्सा पूरी तरह से ढह गया है बारिश के कारण मकान का बाकी हिस्सा भी गिरने की कगार पर है। उन्होंने बताया कि मकान से सटकर मुन्नाा लाल रैकवार का घर है ऐसे में उनके मकान भी क्षत्रिय होने का भय बना रहता है उसकी हालत काफी खराब है। राजेश चौरसिया ने प्रशासन से मुआवजे की मांग की है।

00000000000000000000000000000000000000

दूसरे दिन भी गणेश प्रतिमाओं का किया गया विसर्जन

गंजबासौदा। वैसे तो गणेश महोत्सव का समापन गुरुवार को अनंत चतुर्दशी के साथ हो गया है। लेकिन पिछले 5 दिनों से शहरी क्षेत्र में हो रही झमाझम बारिश के चलते गुरुवार को शहर में बाढ़ के हालात बन गए थे। शहर में चारों ओर पानी ही पानी नजर आ रहा था कई निचली बस्तियों में भी पानी भरा गया था लगातार बारिश के चलते बेतवा का बरारी घाट पाराशरी सहित आसपास की नदियां भी काफी ऊपर थी। वहीं बारिश का दौर देर रात तक जारी रहा इस दौरान कुछ झांकी समितियों के सदस्यों ने अपने गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन दोपहर में और रात के समय कर दिया गया था। लेकिन शहर के कई गणेश प्रतिमाएं कई झांकी समिति द्वारा बारिश के चलते और नदियों के उफान पर होने की वजह से प्रतिमाओं का विसर्जन नहीं किया गया था। शुक्रवार की दोपहर को कई झांकी समितियों ने गाजे बाजे के साथ अनंत चतुर्थी के दूसरे दिन गणपति बप्पा को विदा किया। इस दौरान सड़कों पर काफी ढोल धमाके उड़ती हुई गुलाल के बीच बच्चे युवा और महिलाएं ढोल की थाप पर नाचते गाते झूमते हुए गणेश प्रतिमाओं को विसर्जन के लिए नदियों के घाट पर ले गए

गंजबासौदा-फोटो02

गंजबासौदा। अनंत चतुर्थी के दूसरे दिन प्रतिमाओं को विसर्जन के लिए ले जाते हुए श्रद्घालु।

000000000000000000000000 000000000000

कलेक्टर के घोषणा करने के बाद भी खोले स्कूल

गंजबासौदा। बासौदा तहसील में गुरुवार को हुई मसूलधार बारिश से शहर व आसपास के इलाके में बाढ़ के हालत बन गए थे। जिसे ध्यान में रखते हुए गुरुवार की रात को जिला कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जिले के सभी सरकारी और निजी स्कूलों का अवकाश घोषित कर दिया था। वहीं देर शाम को ही कुछ स्कूल संचालकों ने बारिश को देखते हुए शुक्रवार को स्कूलों का अवकाश घोषित कर दिया था। लेकिन कलेक्टर के आदेश के बाद भी त्योंदा तहसील मुख्यालय पर निजी नवांकुर ज्ञानपीठ स्कूल संचालक द्वारा अपनी हठधर्मिता के चलते शुक्रवार को सुबह से स्कूल का नियमित संचालन किया गया। स्कूल खुलने के कारण कई बच्चों को सुबह के समय गिरते पानी के बीच ही स्कूल आना पड़ा कई बच्चे आस पास के गांव से स्कूल पढ़ने के लिए काफी संख्या में स्कूली बच्चे और स्टाफ स्कूल पहुंचा और रोजाना की तरह पढ़ाई शुरू की। वहीं शुक्रवार को सुबह से जारी बारिश के बीच स्कूल संचालन जारी रहा। हैरत की बात यह है कि जब कलेक्टर द्वारा स्कूलों का अवकाश घोषित किया गया था उसके बाद भी एक निजी स्कूल के संचालक द्वारा डीएम के आदेश की अवहेलना करते हुए स्कूल का संचालन नियमित रखा। जबकि इस आदेश की जानकारी स्कूल के शिक्षकों को थी लेकिन उसके बावजूद भी स्कूल का संचालन किया गया इससे यह साफ जाहिर है कि निजी स्कूल संचालक अपनी मनमानी करते हुए और बारिश के दौरान स्कूली बच्चों की जान जोखिम में डालते हुए स्कूल का संचालन नियमित रखा स्कूल के स्टाफ से पूछा तो उन्होंने कहा कि जानकारी तो हैं, लेकिन क्या कर सकते हैं स्कूल खोलने को कहा है। जब इस बात की जानकारी मीडिया को लगी तो काफी लोग स्कूल पहुंचे वहां देखा तो वादा स्कूल की क्लास लगी हुई थी स्कूली वाहनों से बच्चों को लाया गया था और शिक्षक भी पढ़ा रहे थे जब यह मामला तूल पकड़ता दिखाई दिया तो 11.30 बजे स्कूल की छुट्टी कर दी गई।

बॉक्स

कलेक्टर के आदेश के बाद खुला रहा स्कूल

गुरुवार को बासौदा शहर में सुबह चार बजे से बारिश का दौर जो शुरू हुआ वह दोपहर करीब दो बजे थमा। उसके बाद भी लगातार बारिश रुक-रुककर जारी रही। उसी दौरान दोपहर के समय लाल पठार स्थित एक निजी स्कूल में करीब 18 बच्चे और स्कूल का स्टॉफ बाढ़ में फस गया था। क्योंकि स्कूल के आस पास काफी मात्रा में पानी भरा गया था। उसके बाद लोगों की मदद से सभी को सुरक्षति निकाल लिया गया।

गंजबासौदा-फोटो03

गंजबासौदा। त्योंदा स्कूल में शुक्रवार को पढ़ाई करते स्कूली बच्चे।

00000000000000000000000000000000

रघुवंशी महासभा की बैठक कल

गंजबासौदा। अखिल भारतीय रघुवंशी महासभा की नवीन कार्यकारिणी के गठन को लेकर बैठक रविवार को दोपहर 2बजे बरेठ रोड रघुवंशी धर्मशाला में आयोजित की गई है। महासभा के तहसील अध्यक्ष दिगपाल सिंह रघुवंशी ने बताया कि महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष हजारीलाल रघुवंशी और जिला अध्यक्ष कैलाश रघुवंशी खरी के निर्देशानुसार कार्यकारिणी के विस्तार के लिए बैठक का आयोजन रखा गया है। बैठक में संगठन के विस्तार के साथ-साथ सामाजिक गतिविधियों को लेकर रणनीति बनाई जाएगी। उन्होंने सभी स्वजातीय बंधुओं से 15 सितंबर रविवार को बैठक में विशेष रूप से उपस्थित होने का आग्रह किया है।