गंजबासौदा। नवदुनिया न्यूज

बघरु डैम पर किसानों की जमीन सिंचित करने नहरें बनाई गई थीं, लेकिन विभागों के लापरवाह अधिकारियों की लचर कार्यप्रणाली से करोड़ों की योजना को पलीता लग रहा है। घटिया बरा बनने के साथ ही यह जगह-जगह से टूट गए हैं। जिससे सिंचाई के लिए खेतों में पानी पहुंचने की मंशा बीच में दम तोड़ती नजर आ रही है। बघरु डैम का निर्माण करोडों की लागत से किया गया था। डेम की नहरों से किसानों को सिंचाई के लिए पानी पहुंचाने के लिए ठेकेदार द्वारा 21 किमी एलपीसी एवं आरबीसी नेहरों के कैनाल साधों एवं नेहरों के फाल का निर्माण किया गया था, परंतु विभाग द्वारा देखरेख में बरती गई लापरवाही के चलते ठेकेदार द्वारा किया गया यह घटिया निर्माण अधिकारियों की लचर कार्यप्रणाली से सैकड़ों किसान अपने खेतों में पलेवा नहीं कर पा रहे हैं। कृषक रामसिंह, मनोहर ने बताया कि करोड़ों की सिंचाई योजना से किसानों को समय पर पानी न मिलने के कारण किसान खेतों में बोवनी नहीं कर पा रहे हैं। जानकारी के अनुसार बघरू डैम की आरबीसी नहर के अंतर्गत आने वाले ग्राम खामखेड़ा रूपेटी करई कला सहित अन्य गांव में खेतों की ओर सिंचाई के लिए एलबीसी नहर से जोड़कर पानी की सप्लाई की जा रही थी। कृषक नेता वीरेंद्रसिंह रघुवंशी ने बताया कि कई गांव में खेतों पर सीमेंट कांक्रीट के बरह का निर्माण जल उपभोक्ता समिति के सदस्यों में से मौजूद ठेकेदार के माध्यम से किया गया था। इन सांधों को रेत और बहुत कम मात्रा में सीमेंट के उपयोग से बनाया गया था जिससे यह नहर से पानी छोड़े जाने के पूर्व ही ढह गए घटिया निर्माण के चलते गर्मी के मौसम में इनकी तराई भी नहीं हो सकी थी । जिससे कुछ दिनों में ही यह बारह टूट गए इनका उपयोग सिंचाई के लिए नहीं हो सका किसानों को भी इन बारह का ज्यादा फायदा नहीं मिल सका और अब खेतों में यह बारह कहीं क्षतिग्रस्त नजर आ रहे हैं तो कहीं अनुपयोगी साबित होते हुए नजर आ रहे हैं। विभाग के अधिकारी कार्रवाई करने से कतरा रहे हैं । इस बांध से लगभग 2250 हेक्टेयर भूमि की सिंचाई होती है। इस बांध से करीब 17 गांव के सैकड़ों किसान लाभान्वित होते हैं।

बांध से नहरों में पानी छोड़ने से पहले प्रतिवर्ष नहरों की सफाई और उनकी मरम्मत के नाम पर जल उपभोक्ता संथा के माध्यम से विभाग मोटी रकम खर्च करता है। जहां नहरों की गहराई तीन तो कहीं 4 फीट तक रह गई है। मिट्टी तो कहीं घास झाड़ियां आदि नजर आ रही हैं। किसानों का कहना है, कि त्योंदा से करीब 5 किमी दूर खामखेड़ा क्षेत्र में नेहरों में लंबी लंबी घास झाड़ियां लगी हुई है। बनाए गए नालों की पुलिया भी घटिया निर्माण की भेंट चढ़ गई हैं। ऐसे में रुपेटी की ओर नहर में बनी फाल पुलिया पूरी तरह क्षतिग्रस्त होकर दीवार नहर के बीचो बीच बिखरी हुई पड़ी हुई है। खामखेड़ा क्षेत्र सहित आसपास के खेतों तक पानी पहुंचाने के लिए समिति के माध्यम से ठेकेदार द्वारा बरा बनाए गए थे। मगर यह बरा कहीं पूरी तरह नहीं टिक पाए घटिया निर्माण के चलते बनने के कुछ समय बाद ही टूट गए हैं।

गंजबासौदा-फोटो04

गंजबासौदा। इस तरह क्षतिग्रस्त पड़े नहर के सांधे।

000000000000000

बिजली कंपनी का एक गेट महीनों से पड़ा बंद

गंजबासौदा। बरेठ रोड स्थित बिजली कंपनी के ऑफिस के दूसरे नंबर का गेट महिनों से बंद पड़ा हुआ है। जिससे किसानों को ट्रांसफार्मर निकालने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। एक गेट चालू है, जिसमें रैक पूरी तरह से क्षतिग्रस्त पड़ा है। नाला टूटा हुआ है। इसलिए यहां से किसानों के वाहन नहीं निकल पा रहे हैं।

00000000000000

तय दर से महंगा बेच रहे दूध

गंजबासौदा। शहर में निर्धारित दर से महंगे दामों में सांची दूध बिक रहा है। जिससे उपभोक्ताओं में नाराजगी देखी जा रही है। एडवोकेट सुरेंद्र सिंह राजपूत ने बताया सांची दूध रिटेल कांउटर प्रिंट रेट से अधिक दामों पर बिका आ रहा है। थैली पर 19 रुपए रेट डला हुआ है,लेकिन 22से 23 रुपए उपभोक्ताओं से वसूले जा रहे हैं। ज्ञात हो कि शहर में अधिकांश दुग्ध सेंटर पर सांची दूध का विक्रय होता है, लेकिन मनमाने दाम वसूले जाने के कारण उपभोक्ता अब उपभोक्ता फोरम में जाने का मन बना रहे हैं।

000000000000000

भजनों का हुआ आयोजन

गंजबासौदा। हर वर्ष की तरह इस बार भी श्री सत्य साईं सेवा समिति द्वारा समिति संयोजक के घर शनिवार की शाम 6 बजे से लेकर रविवार के शाम 6 बजे तक लगातार 24 घंटे तक भजनों का आयोजन किया गया जिसमें समिति के सदस्यों व अन्य लोगों ने बिना रुके 24 घंटे तक लगातार एक के बाद एक भजनों का गायन किया। सबसे प्रेम और सब की सेवा करने के विचार के साथ सभी धर्मों में एकता बनाए रखने की बात को लेकर आगे चलने वाली समिति द्वारा श्री सत्य साईं के जन्मदिन से पूर्व यह कार्यक्रम हर वर्ष आयोजित किया जाता है। समिति के संयोजक ओम प्रकाश सूर्येश ने बताया कि यह कार्यक्रम सिर्फ गंजबासौदा में ही नहीं बल्कि भारत व विश्व के संपूर्ण साई संस्थानों पर श्री सत्य साई के जन्मदिन के पूर्व इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है जिसमें सभी लोग एकजुटता से 24 घंटे तक एक साथ तत्परता के साथ भजन गाते हैं। मालूम हो कि 23 नवंबर को श्री सत्य साई का जन्मदिन आता है उस दिन समिति के सदस्य रात को सड़कों पर रहने वाले बेघर निर्धन लोगों के लिए कंबल वितरण महा नारायण सेवा एवं मानव सेवा से जुड़े आदि अनेक कार्य किए जाते हैं।

0000000000000

सीएम के आगमन को लेकर हुई बैठक

गंजबासौदा। जिला मुख्यालय पर करोड़ों की लागत से नए जिला अस्पताल के भवन का निर्माण किया गया है जिसका लोकापर्ण आने वाली 15 नवंबर प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के द्वारा किया जाएगा मुख्यमंत्री के विदिशा आगमन को लेकर पूर्व विधायक निशंक कुमार जैन के कार्यालय में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में कर्यकर्ताओं के विदिशा पहुंच कर सीएम के सर्वांगीण की रूपरेखा बनाई गई। बैठक को पूर्व विधायक निशंक जैन सहित कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित कर कार्यकर्ताओं को मार्गदर्शन दिया।

Posted By: Nai Dunia News Network