गंजबासौदा-फोटो02

गंजबासौदा। नए बस सटैंड क्षेत्र पर बना नाला जिससे लोग हो रहे परेशान।

गंजबासौदा। नवदुनिया न्यूज

इन दिनों नपा द्वारा स्मार्ट सिटी के तहत कई निर्माण कार्य किए जा रहे हैं। उसी कड़ी में नए बस स्टैंड क्षेत्र में काफी लंबे एक नाले का निर्माण नपा द्वारा किया गया है। वर्तमान में इस नाले का निर्माण चल रहा है, लेकिन यह नाला रहवासियों के मकानों और दुकानों से काफी ऊंचा है जिससे लोग परेशान हो रहे हैं और घरों के सामने लेबल करने के लिए कोपरा आदि डाल कर नाले और घर की बीच की खाली जगह को भर रहे हैं। इस कार्य में लोगों की काफी राशि खर्च हो रही है।

क्षेत्र के निवासी विक्की यादव,सुनील यादव, नर्मदा प्रसाद वर्मा ने बताया कि करीब 2 महीने पहले नपा द्वारा महाराणा प्रताप चौराहे से बस स्टैंड की ओर स्मार्ट सिटी के अंतर्गत नाले का निर्माण शुरू किया था। लेकिन नाले की ऊंचाई घरों और दुकानों से करीब 2 फीट से अधिक की है जिससे नाले और घरों के बीच काफी गहराई हो गई है। जिसकी पुराई करने के लिए हम लोगों को बाजार से 300 रुपए प्रति के रेट से कोपरे की ट्रॉली लाना पड़ रही है। 2 ट्रॉली डालने के बाद जमीन का लेवल मिल रहा है। इतना ही नहीं सड़क से नाले की काफी ऊंचाई है और यह नाला सड़क के एक ही और बना है जिससे बारिश के मौसम में परेशानी होगी। एक ओर नाले के निर्माण से बारिश के दिनों में सड़क पर पानी भरा रहेगा। जिसने यदि घरों के सामने कोपरा नहीं डलवाया तो उसके घर व दुकान के सामने पानी भरा रहेगा।

00000000000000000000000000000

महिला डॉक्टर के हत्यारों को फांसी की सजा दिलाने निकाला कैंडल मार्च

गंजबासौदा-फोटो03

गंजबासौदा। जय स्तंभ चौराहे पर कैंडल जलाते छात्र-छात्राएं।

गंजबासौदा। नवदुनिया न्यूज

मंगलवार शाम को रॉयल अकादमी व अन्य लोगों ने भारत में महिलाओं पर हो रहे अत्याचार के विरोध में शाम के समय ब्लॉक ऑफिस से लेकर जयस्तंभ चौराहा तक कैंडल मार्च निकाला और संदेश दिया कि समय के साथ-साथ महिलाओं के प्रति कानून में भी बदलाव किया जाए और महिला डॉक्टर के हत्यारों को फांसी की सजा दी जाए। इस कैंडल मार्च में बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं, संचालक मनोज शर्मा, सचिन श्रीवास्तव, पूजा नरवरिया, लक्ष्मी रघुवंशी, पूनम ठाकुर, गौरी शर्मा, प्रियंका पुराणिक, रानी शर्मा, मधु दांगी, पूजा राजपूत, संतोष रैकवार, निरपत सिंह, सत्यम, अमन, दीपक आदि लोग मौजूद थे।

0000000000000000000000000000000000000

चमत्कार-जादू नहीं, भाई यह मात्र विज्ञान है

गंजबासौदा-फोटो04

गंजबासौदा। कार्यक्रम के दौरान मौजूद बच्चे ।

गंजबासौदा। आम जनता चमत्कार, जादू और साधू संतों की चमत्कारी क्रियाओं में किस तरह फंस जाते हैं और उनसे कैसे बचा जाए। इस बात के लिए आम लोगों को जागरूक करने के लिए बुधवार को उत्कृष्ट विद्यालय में कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें बताया गया कि कैसे ओझा, चमत्कारी, साधुओं द्वारा रसायन विज्ञान की रासायनिक क्रियाओं के माध्यम से चमत्कारी घटनाओं से भोली जनता को मूर्ख बनाया जाता है। इन क्रियाओं को बच्चों ने विज्ञान के पूर्व प्रशिक्षत शिक्षकों से पहले खुद सीखा फिर अपने अपने विद्यालयों में इस विधा का प्रदर्शन किया। सभी विद्यालयों से चयनित बच्चों ने उत्कृष्ट विद्यालय के इनडोर हॉल में सफल प्रदर्शन कर खूब कौतूहल पैदा किया। कुछ बच्चों ने नाट्य रूपांतरण के माध्यम से आनंदित किया। इस अवसर पर विज्ञान शिक्षक प्रशांत श्रीवास्तव, महेंद्र रघुवंशी, संजय मिश्रा आदि मौजूद थे।

000000000000000000000000000

कॉमर्स के छात्रों के लिए स्कूल में सेमिनार आयोजित

गंजबासौदा-फोटो06

गंजबासौदा। स्कूल में आयोजित सेमिनार को संबोधित करती सीए रचना दुबे ।

गंजबासौदा। नवदुनिया न्यूज

सेंट एस आर एस पब्लिक हायर सेकंडरी स्कूल में कॉमर्स संकाय के छात्र-छात्राओं के लिए मंगलवार को कॅरियर गाइडेंस सेमिनार का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में भोपाल से आईं सीए रचना परख दुबे ने छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए बताया कि आज का युग व्यवसाय और व्यवसायिक प्रतिस्पर्धा का युग है। इस युग में जो सही दिशा में सही ढंग से उचित अवसर पर पूरी ताकत से दौड़ लगा पाता है वही जीत का हकदार बनता है। जिसमें आज की व्यावसायिक परिस्थितियों और उनमें भाग लेने का अनुभव, ज्ञान और कौशल होगा वह सबसे आगे दिखाई देगा, ऐसे में कॉमर्स वालों को सफलता के सबसे ज्यादा अवसर उपलब्ध होते हैं। इसलिए बच्चों ने कॉमर्स लेकर सही दिशा में कदम तो उठाया है। अब बारी पूरी तरह से लगने के साथ आगे बढ़ने की है। उन्होंने बताया कि कॉमर्स संकाय वाले छात्रों को कक्षा बारह के बाद चार्टर्ड एकाउंटेंट, कंपनी सेकेट्री, बैकिंग सेक्टर की परीक्षाओं की आयोजन प्रक्रिया और आरंभ से ही उनकी तैयारियों के गुर सिखाए। साथ ही कॉमर्स संकाय के छात्रों को प्रत्येक विषयों के गूढ़ विषयों की विस्तार से जानकारी दी। वहीं बोर्ड परीक्षाओं में उच्चतम अंकों को प्राप्त करने की प्रक्रिया समझाई। इस दौरान सूझे तो पूछे सत्र हुआ, जिसमें बच्चों ने विषय, कॅरियर सहित वर्तमान समय की समस्याओं पर कई प्रश्न पूछे। जिनका काउंसलर रचना दुबे ने संतोषजनक जवाब दिए।

इस मौके पर संस्था के डायरेक्टर केएस यादव ने अतिथि रचना दुबे का परिचय कराते हुए कहा कि संस्था द्वारा हर साल बच्चों को विषयवार कॅरियर गाइडेंस की व्यवस्था की जाती है। कॉमर्स विषय में संस्था की छात्रा ने मप्र मैरिट सूची में द्वितीय स्थान हासिल किया था। इस अवसर पर कॉमर्स संकाय प्रभारी रजनी गुप्ता, गणित संकाय प्रभारी अनुज गुप्ता, एनएसएस प्रभारी राजेश कुमार यादव, डॉ. विजय कुमार जैन ने कॉमर्स संकाय कक्षा 11 एवं 12 हिन्दी अंग्रेजी माध्यम के बच्चों को संबोधित किया।

000000000000000000000000000

जैसे ही दूसरी किश्त आएगी किसानों के खाते में डल जाएगी राशिः कलेक्टर

गंजबासौदा-फोटो05

गंजबासौदा। एसडीएम के कक्ष में मुआवजा राशि वितरण कार्य की समीक्षा करते कलेक्टर।

गंजबासौदा। नवदुनिया न्यूज

इन दिनों जिले की सभी तहसीलों में प्रदेश सरकार द्वारा अतिवृष्टि से किसानों की बर्बाद हुई फसल की मुआवजा राशि के वितरण का कार्य चल रहा है। इसी कार्य की समीक्षा करने के लिए बुधवार की दोपहर को कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह बासौदा आए। जहां पर उन्होंने तहसील परिसर पहुंच कर एसडीएम कार्यालय में मुआवजा वितरण के कार्य की समीक्षा की। इस दौरान कलेक्टर ने तहसीलदार और अन्य अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए। इस दौरान कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि कुछ दिनों पहले शासन की और से बारिश से जिन किसानों की फसलें बर्बाद हुई थीं। उनके लिए मुआवजा राशि जारी हुई है। तीन दिनों में यह राशि किसानों के खाते में पहुंचानी है उसी की समीक्षा आज की गई है। कलेक्टर ने बताया कि जैसे ही अगली किश्त हमें सरकार से प्राप्त होगी वैसे ही किसानों के खातों में राशि डाल दी जाएगी क्योंकि हमारे पास किसानों के खाते तैयार रहेंगे। इसलिए काम में कोई परेशानी नहीं होगी। उन्होंने बताया कि खाद के मामले में सुनने में आता है कि खाद की कमी है। पिछले साल पूरे सीजन में 39 हजार एमटी खाद उठा था ।वर्तमान समय में आज तक 30 हजार एमटी खाद उठ चुका है। इस बार हम लोगों ने करीब 32 हजार एमटी खाद उठा लिया है। उन्होंने किसानों से अपील की है कि अगली रैक 7, 8, 15 दिसंबर को लगेगी। उसके बाद 20 तारीख को भी रैक लगेगी करीब 15 दिन में 10 हजार एमटी खाद और हम लोगों को मिलेगा। किसानों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। धीरे-धीरे सभी किसानों को खाद मिलेगा। उन्होंने बताया कि कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा प्राइवेट दुकानों पर कीटनााशक दवा की जांच की जा रही है। यदि किसी दुकान पर कोई अनियमितता मिलती है तो संबंधित दुकानदार पर एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। पहले भी हमारे द्वारा कुछ दुकानदारों पर एफआईआर दर्ज कराई गई है।

Posted By: Nai Dunia News Network