गंजबासौदा(नवदुनिया न्यूज)। शहर की अधिकांश सड़कों की हालत लगातार खराब होती जा रही है। इन सड़कों में इतने गड्ढे हो गए हैं कि पैदल चलना तो दूर वाहन चलाना भी मुश्किल हो रहा है। सड़क से जैसे ही भारी वाहन गुजरते हैं तो सड़क पर केवल धूल के गुबार ही नजर आते हैं, जिससे सड़क पर पैदल चलने वाले और अन्य वाहन चालकों को परेशानी हो रही है। जबकि शहर में स्मार्ट सिटी योजना के तहत कई सड़कों का निर्माण किया जाना है, लेकिन अभी तक निर्माण कार्य शुरू नहीं हुआ जबकि पिछले दिनों नपा सीएमओ सुधीर उपाध्याय ने सभी ठेकेदारों की एक बैठक बुलाई थी जिसमें सभी को अपने-अपने निर्माण कार्य शुरू करने के निर्देश दिए थे, उसके बाद भी निर्माण कार्य अब तक शुरू नहीं हो सके।

बारिश के मौसम की वजह से शहर के अंदर प्रवेश करने वाले सिंधी कॉलोनी की सड़क की हालत इतनी खराब हो गई है कि वाहन चालकों को अपने वाहन चलाने में काफी परेशानी होती है। यही हाल बस स्टैंड क्षेत्र का है, सड़कों की हालत भी इतनी खराब हो गई है कि लोग पैदल नहीं चल सकते। कुछ दिनों पहले विधायक लीना जैन के कहने पर नपा ने इन रास्तों पर कोपरा तो डलवा दिया, लेकिन उसे दबाया नहीं गया, जिससे छोटे-छोटे पत्थरों पर वाहन चलाने में लोगों को परेशानी हो रही है। वहीं बस स्टैंड से तिरंगा चौक तक वायपास का निर्माण कार्य भी स्मार्ट सिटी योजना के तहत किया जाना है वह कार्य भी काफी दिनों से बंद पड़ा हुआ है। स्थानीय लोग रामेश, सुनील बाथम ने नपा से मांग की है कि इन रास्तों पर डामरीकरण किया जाए।

इनका कहना

बहुत जल्द स्मार्ट सिटी योजना के तहत निर्माण कार्य शुरु कराए जाएंगे। जिन सड़कों की हालत खराब हो गई है उनका सुधार कार्य भी जल्द से जल्द कराया जाएगा।

सुधीर उपाध्याय, नगर पालिका सीएमओ गंजबासौदा।

000000000000000000000

अनाज व्यापारी ने किसान से गेहूं खरीदा, नहीं किया भुगतान

गंजबासौदा(नवदुनिया न्यूज)।

एक अनाज व्यापारी के द्वारा किसान से उसका गेहूं खरीद लिया, लेकिन भुगतान अब तक नहीं किया गया। पीड़ित किसान अब भुगतान के लिए चक्कर लगा रहा है। इस संबंध में किसान ने अधिकारियों के नाम आवेदन दिया जिसमें उसने अपना भुगतान कराने की मांग की है।

ग्राम चक्क रघुनाथपुर निवासी विनोद कुमार सोलंकी ने बताया कि भोपाल और रायसेन के व्यापारियों ने जून माह में गेहूं की खरीदी की थी। उसने बताया कि जून माह में 17 क्विंटल गेहूं उन्होंने 1960 रुपये प्रति क्विंटल के भाव से तय कर खरीदा था। उस समय 13800 रुपये का नगद भुगतान किया गया था, बाकी 19800 रुपये का भुगतान उन्होंने चेक से करने को कहा था बाद में चेक बाउंस हो गया। व्यापारी को कई बार कॉल किया गया, लेकिन आज दिन तक भुगतान नहीं किया गया। अब किसान अपने भुगतान के लिए अधिकारियों के पास गुहार लगा रहे हैं।

00000000000000

किसान के घर में लगी आग, हजारों का नुकसान

गंजबासौदा(नवदुनिया न्यूज)। उदयपुरा क्षेत्र के ग्राम समदपुर में किसान पहलवान सिंह दांगी के टपरे में अचानक अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई, जिससे उसका काफी नुकसान हो गया है। किसान ने बताया कि आग रात करीब 3 बजे लगी थी, इस घटना में टपरे में बंधे मवेशी आग से झुलस गए हैं। उन्होंने बताया कि एक गाय को सुरक्षित निकाल लिया था, जबकि तीन गाय काफी झुलस गई हैं। फसल में पानी देने वाले उपकरण भी आग की चपेट में आ गए थे। इस घटना में किसान का हजारों रुपये का नुकसान हुआ है। उक्त जानकरी चौकी प्रभारी बहादुर सिंह दांगी ने दी है।

000000000000

आंधी से गिरा कच्चा मकान

गंजबासौदा(नवदुनिया न्यूज)। ग्राम मसूदपुर में शनिवार की देर रात को आंधी चलने से तुला भोई नाम के एक व्यक्ति का कच्चा मकान गिर गया, जिससे उसका काफी नुकसान हुआ है। पीड़ित ने सरकार से मुआवजे की मांग की है।

000000000000000

सड़क पर बेसहारा मवेशियों के बैठने से वाहन चालकों को हो रही परेशानी

गंजबासौदा-फोटो03

गंजबासौदा- इस तरह से सड़क के बीच बैठे रहते हैं बेसहारा मवेशी।

गंजबासौदा(नवदुनिया न्यूज)।

शहर की अधिकांश सड़क के बीचों बीच बड़ी संख्या में बेसहारा मवेशियों के बैठने से वाहन चलाने वाले लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वहीं यातायात में भी परेशानी होती है। इन मवेशियों के कारण अब तक कई दुर्घटनाएं हो चुकी हैं, जिसमें बाइक चालक गंभीर रूप से घायल हो जाते हैं। लोगों ने नगर पालिका से मांग की है कि इन बेसहारा मवेशियों को पकड़र गोशालाओं में भेजा जाए।

बारिश होने से सड़कों के दोनों ओर कीचड़ हो जाती है, जिससे बेसहारा मवेशी सड़क किनारे न बैठते हुए बीच सड़क पर और चौराहों पर ही बैठ जाते हैं। मवेशियों के सड़क पर बैठने से यातायात में काफी परेशानी होती है, वाहन चालकों को बड़ी सावधानी से उस स्थान से निकलना पड़ता है, जहां पर मवेशी बैठे रहते हैं। ऐसा नजारा स्टेशन की ओर जाने वाले मार्ग, जय स्तंभ चौराहा, अस्पताल के सामने, मिल रोड, बरेठ रोड सहित अनेकों स्थान पर रोजना देखने को मिलता है। कभी-कभी तो इनकी वजह से काफी देर तक जाम लग जाता है। रात के अंधेरे में सड़क के बीच में बैठे मवेशी वाहन चालकों को दूर से दिखाई नहीं देते, जिससे वह दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं। लोगों की मांग है कि नगर पालिका इन बेसहरा मवेशियों को पकड़कर शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में बनी गोशाला में भेजें, जिससे कि वाहन चालक और आम लोगों को भी परेशानी न हो।

00000000000

लोकल ट्रेनें चलें तो दूर हो स्टेशन का सन्नाटा

गंजबासौदा (नवदुनिया न्यूज )

रेलवे स्टेशन पर सन्नाटा पसरा है। हालात यह है कि करीब दो दर्जन गाड़ियों के स्टापेज वाला गंजबासौदा रेलवे स्टेशन इन दिनों वीरान पड़ा है। भोपाल, विदिशा, बीना की ओर चलने वाली लोकल ट्रेनें नहीं होने के कारण इन शहरों में काम करने वाले लोग घरों में बैठने के लिए मजबूर हैं और हजारों लोग बेरोजगारी से जूझ रहे हैं।

गंजबासौदा रेलवे स्टेशन से प्रतिदिन दस हजार से ज्यादा लोग यात्रा करते आए हैं। रेलवे द्वारा हर माह करीब 6800 मासिक पास बनाए जाते हैं। इससे ज्यादा लोग टिकट लेकर यात्रा करते हैं, लेकिन लॉकडाउन के बाद ट्रेनों की आवाजाही रुकने के कारण रेलवे स्टेशन पर सन्नााटा पसरा हुआ है। रेलवे के वाहन स्टैंड पर कुछ गिनी-चुनीं मोटरसाइकिलों के अलावा सैकड़ों की क्षमता वाला वाहन स्टैंड पूरी तरह खाली पड़ा हुआ है। अपडाउनर्स आकाश कटारे का कहना है कि इन दिनों केवल कामायनी एक्सप्रेस, कुशीनगर एक्सप्रेस और हबीबगंज निजामुद्दीन भोपाल एक्सप्रेस की सुविधा ही है। लोग कोरोना के कहर के कारण दूर के शहरों की यात्रा करना पसंद नहीं कर रहे हैं, वहीं ऑनलाइन टिकट होने के कारण भी ग्रामीण भोपाल, विदिशा तक निजी वाहनों से जाना पसंद कर रहे हैं। इस कारण रेलवे स्टेशन का सन्नााटा खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। अपडाउनर्स संघ द्वारा रेल मंत्री से लोकल ट्रेनों की आवाजाही शुरू करने की मांग की जा रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020