विदिशा( नवदुनिया प्रतिनिधि)। एक दिन पहले बुधवार को रोजगार महोत्सव और दिन भर बैठकों में भीड़ से घिरे रहे चिकित्सा शिक्षा और जिले के प्रभारी मंत्री गुरुवार को कोरोना संक्रमित पाए गए है। इनके साथ मंच पर विदिशा और सागर के सांसदों के अलावा जिले के नेता और अफसर भी साथ थे। अब इनके संक्रमित होने की भी आशंका बढ़ गई है। इस माह पहली बार गुरुवार को जिले में एक दिन में कोरोना के 95 मरीज नए मरीज मिले है, इनमें कांग्रेस जिला अध्यक्ष और पूर्व विधायक निशंक जैन भी शामिल है।

कोरोना की बढ़ती रफ्तार के बीच एक दिन पहले सरकार के रोजगार महोत्सव में कोरोना गाइड लाइन की अनदेखी पर नवदुनिया ने ही सवाल उठाया था। जिसके परिणाम अब दिखाई देने लगे है। विदिशा से लौटने के कुछ घण्टों बाद ही जिले के प्रभारी मंत्री सारंग ने ट्वीट कर जानकारी दी कि वे कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। उन्होंने लिखा है कि पिछले दो दिनों में उनके सम्पर्क में आने वाले लोग भी अपना कोरोना टेस्ट करा ले लेकिन गुरुवार को जिले का कोई नेता टेस्ट कराने अस्पताल नही पहुंचा। बुधवार के कार्यक्रम में वे दो घण्टे सर्किट हाउस भी रुके थे जहां वे कार्यकर्ताओं से भी मिले थे। यही कार्यकर्ता गुरुवार को दिन भर सार्वजनिक स्थानों पर घूमते दिखाई दिए। सूत्रों के अनुसार स्वास्थ्य विभाग ने एसएटीआइ परिसर में आयोजित स्वरोजगार महोत्सव में आए लोगों की आकस्मिक सैंपलिंग कराई थी, इसमें भी दस लोग गुरुवार को कोरोना पीड़ित पाए गए है। इसका मतलब यह कि बुधवार के इस आयोजन में यह लोग कोरोना के वाहक बनकर घूमते रहे। जानकारों का कहना है कि कोरोना को लेकर यदि प्रशासनिक अफसरों से लेकर जन प्रतिनिधियों का यही रवैया रहा तो जिले में समय से पहले ही पिक आने से इनकार नही किया जा सकता।

न्यायालय के 11 सहित 95 कोरोना संक्रमित

सीएमएचओ डॉ. अखंड प्रताप सिंह ने बताया कि गुरुवार को 1163 सैम्पलों की रिपोर्ट प्राप्त हुई है, जिसमें 95 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, इनमें विदिशा के 57, गंजबासौदा के 30, कुरवाई के पांच, नटेरन के दो और सिरोंज का एक मरीज शामिल है। विदिशा के मरीजों में 11 न्यायालयीन कर्मचारी शामिल है। जिले में इस माह अब तक 332 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके है। गुरुवार को 27 मरीजों को स्वस्थ्य होने पर डिस्चार्ज किया गया। जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या 305 हो गई है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local