विदिशा/कुरवाई कुरवाई कैथोरा रेलवे स्टेशन पर ट्रेन दुर्घटना में 8 साल के संजय लोधी की मौत हो गई। गुरुवार सुबह कुरवाई शासकीय अस्पताल में उसका पोस्टमार्टम हुआ। मृतक संजय उत्तरप्रदेश के सिद्धार्थनगर के रहने वाला था, उसके पिता जालधंर लोधी अपने बेटे का शव इतनी दूर तक ले जाने में असमर्थ थे लिहाजा कुरवाई के लोगों ने मानवीयता दिखाते हुए चंदा एकत्रित कर निजी वाहन से उनके गांव भेजा।

उत्तरप्रदेश के सिद्धार्थनगर निवासी जालंधर लोधी अपने परिवार के साथ कोल्हापुर जाने के लिए संपर्कक्रांति एक्सप्रेस ट्रेन से रवाना हुए थे। बुधवार रात करीब 8 बजे जब ट्रेन विदिशा के कुरवाई कैथोरा रेलवे स्टेशन से गुजरी तभी उनका बेटा संजय ट्रेन से गिर गया जिससे उसकी मौत हो गई। घटना के बाद जैसे तैसे ट्रेन को रुकवाकर जालंधर लोधी अपनी पत्नी और तीन साल की बेटी के साथ ट्रेन से उतर गए। गुरुवार सुबह संजय का पीएम कराया गया। पीएम के बाद जालधंर ने अपने बेटे का अंतिम संस्कार गृह जिले में ही करने की इच्छा जताई, लेकिन उन्हें उप्र जाने के लिए सरकारी मदद नहीं मिल रही थी। उनके पास भी इतने पैसे नहीं थे कि वे निजी वाहन लेकर जा सकें। जब ये बात कुरवाई के स्थानीय समाजसेवी दीपचंद सप्रे, कमलेश सप्रे, डीके साहू, अजय श्रीवास्तव, संदीप वाल्मीकि, पूरन वाल्मीकि, जितेंद्र वाल्मीकि, बबलू राय सहित अन्य नागरिकों ने मानवीयता दिखाते हुए परिवार की मदद की। उन्होंने करीब 20 हजार रुपये चंदा एकत्रित कर बच्चे के शव के साथ परिवार को करीब 900 किलोमीटर दूर अपने ग्रह नगर रवाना किया। जालधंर ने नम आंखों से कुरवाई के लोगों का आभार मानते हुए कहा कि ये मदद वो जिंदगीभर नहीं भूलेगा। उसने बताया कि लॉकडाउन के दौरान वह अपने गांव चला गया था, अब गांव से वापस कोल्हापुर मजदूरी करने जा रहे थे, अचानक ये हादसा हो गया।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस