रायसेन, बेगमगंज (नवदुनिया प्रतिनिधि)। कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर जिले भर में ग्रामीण विकास विभाग के कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं। इससे ग्रामीण क्षेत्र के विकास कार्य प्रभावित होंगे। अपनी विभिन्ना मांगों को लेकर संविदा एवं जनपद कर्मचारी सोमवार से दो दिन के सामूहिक अवकाश के बाद गुरुवार से अनिश्चितकालीन के लिए हड़ताल पर चले गए हैं। उन्होंने जनपद पंचायत के बाहर जमकर नारेबाजी की और हड़ताल पर जाने की सूचना जनपद सीईओ बलवान सिंह मवासे को दे दी है।

संयुक्त मोर्चा ने 12 जुलाई को ही शासन के नाम ज्ञापन सौंपकर अपनी मांगों का निराकरण करने का अनुरोध किया था। इसके लिए हफ्ते भर का समय भी दिया गया थाए लेकिन इस दौरान शासन ने कोई निर्णय नहीं लिया। इस कारण मजबूरन ग्रामीण विकास विभाग के कर्मचारियों को दो दिन के लिए सामूहिक अवकाश पर जाना पड़ा। मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारियों ने पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मंत्री से भी चर्चा की उन्होंने सिर्फ आश्वासन दिया है। मांगों का निराकरण नहीं होने पर 22 जुलाई से सभी सामूहिक अनिश्चितकालीन कलम व कार्यालय बंद हड़ताल पर चले गए हैं। इस हड़ताल में ग्राम पंचायत सचिवए रोजगार सहायक, उपयंत्री, मनरेगा कर्मचारी, आजीविका मिशन कार्यालयों में पदस्थ संविदा कर्मचारी आदि शामिल हैं। हड़ताल शुरू होने से ग्रामीण क्षेत्र के शासन की योजनाओं के विभिन्ना कार्य प्रभावित होना शुरू हो गए हैं। संयुक्त मोर्चा की विभिन्ना मांगों में नियमितीकरण वेतन विसंगतियां अनुकंपा नियुक्ति बीआरएसओ की संविदा कर्मी नहीं मानना एवं प्रदेश में एक सीईओ एवं इंजीनियर द्वारा की गई आत्महत्या के मामले के अलावा जिला पंचायत और जनपद पंचायत के मूल कर्मचारियों को शासकीय कर्मचारियों के अनुरूप पांचवां और छठा वेतनमान दिया जाए। समयमानए वेतनमान और पेंशन के आदेश संशोधित किए जाएं। जिला पंचायत और जनपद पंचायत का स्टाप सेटअप को लागू किया जाए। दिवंगत पीसीओ व बीपीओ के आश्रितों को तत्काल अनुकंपा नियुक्ति दी जाए। सहायक संचालक पद के लिए विभागीय परीक्षा आयोजित की जाए। मुख्यमंत्री हेल्पलाइन में मांग और समस्या आधारित शिकायत अलग.अलग दर्ज की जाए और इसके लिए निचले स्तर के कर्मचारियों को प्रताड़ित नहीं किया जाए। प्रधानमंत्री आवास योजना में राशि सीधे हितग्राही के खाते में दी जा रही हैं और आवास पूर्ण कराने के नाम पर निचले स्तर के कर्मचारियों को प्रताड़ित किया जाना बंद हो। सभी पीसीओ व बीपीओ के नियुक्ति दिनांक से और जिस दिनांक से स्नातक किया हैए उसी दिनांक से स्नातक वेतन और समयमान की गणना की जाए आदि विभिन्ना मांगें शामिल हैं। हड़ताली कर्मचारियों का मार्गदर्शन सचिव संघ अध्यक्ष सुखदेव शर्मा, पीसीओ दिलीप कुशवाहा, प्रदेश कोषाध्यक्ष संदीप शर्मा, सचिन ठाकुर लखन सिंह, हिम्मत सिंह मीणा, महेंद्र सिंहए पवन विश्वकर्मा, शिवप्रताप बुंदेला आदि कर रहे हैं।

--

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags