भारी बारिश के चलते ग्रामीण अंचलों की सड़क एवं पुलिया हुई क्षतिग्रस्त

एसडीएम ने किया नगदा गांव की पुलिया के निरीक्षण

फोटो नंबर 24

नटेरन। बारिश के बाद कई पुलिया क्षतिग्रस्त हुईं।

नटेरन। नवदुनिया न्यूज

नटेरन सहित आसपास के ग्रामीण अंचलों में हो रही लगभग 15 दिन से अनवरत बारिश के कारण हाल बेहाल बने हुए हैं, लगातार 8 तारीख से आज छठवें दिवस बाह्‌र नदी कागपुर एवं सगड़ नदी जोहद में पानी पुल के ऊपर से बह रहा है। ग्राम दासखजूरी निवासी हाकम सिंह रघुवंशी ने बताया कि स्टॉप डैम का दोनों साइड से क्षतिग्रस्त हो गया है, जिससे रास्ता बंद हो गया। ऐसी स्थति में नटेरन से लगभग 15 किमी का चक्कर काट कर विदिशा या बासौदा जाना पड़ेगा। वहीं खिरिया, नकटी, खर्रा, कपूर्णा सहित अन्य नदी नालों का भी लगातार चढ़ने उतरने का क्रम लगा हुआ है। नदी किनारे से लगे दर्जन भर के ग्रामीण विगत एक सप्ताह से निकल नहीं पा रहे हैं कस्बाखेड़ी, गूजरखेड़ी, दासखजूरी, नरखेड़ा घाट, सहित बाह्‌र नदी किनारे ऐसे गांव है जिनके ग्रामीण जन लगातार 8 सितंबर शुक्रवार से नटेरन की तरफ नहीं निकल पाए।

पुलियों से वाहनों का निकलना बंद

लागतार पुलों पर पानी बहने के कारण कांगपुर पुल, नटेरन से सेऊ खर्रा नाले की पुलिया एवं ग्राम नगदा की पुलिया क्षतिग्रस्त हो गई। नगदा पुलिया से बड़े वाहनों की आवाजाही लगभग बन्द हो गई है। नटेरन एसडीएम अनिल सोनी द्वारा नगदा पहुंचकर बाढ़ पीड़ित ग्रामीणों से मिले एवं क्षतिग्रस्त मकानों के निरीक्षण व पुलिया के भी निरीक्षण किया एवं सभी हल्का पटवारियों को अपने हल्का ग्राम में बारिश के कारण क्षतिग्रस्त हुए मकानों का सर्वे करने के निर्देश दिए एवं पटवारियों द्वारा सर्वे का काम भी चालू कर दिया। ग्राम सेऊ में हरिजनबस्ती में पटवारी बलवीर सिंह दांगी द्वारा क्षतिग्रस्त कच्चे घरों का मौका मुआयना किया।

ज्यादा वारिश के चलते सड़के हुई क्षतिग्रस्त-

ग्राम जोहद, रावन, ताजखजूरी सहित कई ग्रामों की प्रधानमंत्री सड़कें घराशायी हो गईं। सड़कों का डामर पूरी तरह बह गया जिससे बड़े-बड़े गड्ढे हो गए है। वहीं नटेरन ग्राम की मेन पुलिया भी जीर्ण शीर्ण हो गई। पूर्व विधायक रुद्रप्रताप सिंह ने बाढ़ पीड़ित ग्राम पमारिया, ढाढोंन, कालू आमखेड़ा सहित कई ग्रामों का द्वारा किया एवं भारी बारिश के चलते ग्रामीणों के हुए नुकसान का मौके पर पहुंचकर जानकारी लेकर गिरे मकानों के सर्वे कराने के निर्देश दिए। इस दौरान नटेरन सीईओ विष्णुकांता भी मौजूद रहीं।

पमारिया में निशुल्क दिया खाद्यान

नटेरन। ग्राम पमारिया में कपूर्णा नदी में गुरुवार को रेस्क्यू ऑपरेशन द्वारा बाढ़ के पानी से बाहर निकाले जाने वाले परिवारों को निशुल्क खाद्यान वितरण किया। तहसीलदार हर्ष विक्रम सिंह व नटेरन कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी पिंकी शाक्य के द्वारा आर आई एवं पटवारी के साथ ग्राम पमारिया में प्राकृतिक आपदा से प्रभावित परिवारों को तात्कालिक सहायता के रूप में आरबीसी 6(4) के अंतर्गत प्रति परिवार को 20 किलोग्राम गेहूं एवं 5 किलोग्राम चावल उचित मूल्य दुकान से निशुल्क प्रदाय कराया गया।

तीर्थ क्षेत्र निसईजी में मनेगा विशाल क्षमावाणी पर्व

कुरवाई। क्षेत्र के भौंरासा मल्हारगढ़ मार्ग पर स्थित तारण तरण जैन तीर्थ क्षेत्र निसईजी में आगामी 15 सितम्बर को अनेक आयोजन हो रहे हैं। पर्यूषण पर्व के समापन पर क्षमावाणी एवं तिलकोत्सव कार्यक्रम में संपूर्ण मध्यप्रदेश से अनेक श्रद्घालु जन एकत्रित हो रहे हैं। निसईजी ट्रस्ट के द्वारा जन सेवा हेतु यहां निर्मित किए गए चिकित्सालय का इस मौके विधिवत शुभारम्भ होगा। जिसमें निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर तथा आनंदपुर ट्रस्ट के सहयोग से निशुल्क नेत्र शिविर लगाए जा रहे हैं। इस मौके पर क्षेत्र के जनप्रतिनिधि एवं वरिष्ठ सामाजिक जन तीर्थ क्षेत्र निसईजी पहुंच रहे हैं। निसईजी ट्रस्ट के महामंत्री रतनचंद जैन गंजबासौदा ने बताया किपर्यूषण पर्व के समापन पर क्षमावाणी एवं तिलकोत्सव कार्यक्रम भव्य स्वरूप में संपन्ना किए जा रहे हैं, इस मौके पर समाज बन्धु बड़ी संख्या में निसईजी पहुंच रहे हैं। निसईजी ट्रस्ट के द्वारा संचालित चिकित्सालय का इस मौके पर अतिथियों के द्वारा शुभारम्भ किया जाएगा। कुरवाई व मुंगावली के मध्य स्थित निसईजी ट्रस्ट के द्वारा जन सेवा हेतु समर्पित किया जा रहा यह चिकित्सालय आसपास के 20 कि.मी.क्षेत्र के सैकड़ों ग्रामों के मरीजों को तात्कालिक लाभ पहुंचाने में सहायक होगा। चिकित्सालय में स्थाई रूप से मरीजों की देखभाल हेतु चिकित्सकों की व्यवस्था की गई है। साथ ही समाजसेवियों के सहयोग से इस सेवा प्रकल्प को निरन्तर जन उपयोगी बनाने का प्रयास किया जाएगा।

भौंरासा स्कूल में भरा पानी, जल भराव से भौंरासा मल्हारगढ मार्ग बंद हुआ

कुरवाई। भौंरासा मल्हारगढ़ मार्ग पर स्थित मारकण्डेय पुलिया पर बेतवा नदी का जल भराव हो गया है, इस मार्ग पर से लगे आधा सैकड़ा ग्रामों का अवागमन बंद होने के साथ ही यहां से मार्ग अवरुद्ध हो गया है। इस क्षेत्र के ग्रामीणों को विगत एक सप्ताह से प्राथमिक चिकित्सा की सुविधाएं भी नहीं मिल पा रही हैं। वहीं बिजली बंद होने से यहां ग्रामीणों को अनेक कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। ग्राम भौंरासा के शासकीय माध्यमिकशाला एवं आंगनबाड़ी केंद्र? में पानी भरने से स्कूल का सामान खराब हो गया, वहीं गौशाला भौंरासा का मार्ग जल भराव में कटने के कारण बंद हो गया है। प्रशासनिक अधिकारियों से इस मार्ग पर रहने वाले ग्रामीणों के द्वारा आवश्यक सुविधाएं मुहैया करवाने जाने की मांग की गई है। भौंरासा मल्हारगढ़ रोड पर रहने वाले कई ग्रामों के नागरिकों का एक सप्ताह से आवागवन सम्भव नहीं रहा है। इस क्षेत्र में मौसमी वायरल बुखार, तथा मच्छरों की भरमार से लोग अत्यधिक बीमार रहे हैं, साथ ही बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। मल्हारगढ़ की पुलिया पर पुलिस की आपदा प्रबंधन टीम के द्वारा नाव की मांग भी की गई। ताकि इस क्षेत्र के ग्रामीण मुख्य मार्ग तक पहुंच सकें। मांग करने वालों में ग्राम पंचायत झगरिया भौंरासा के सरपंच सत्येद्रसिंह चौहान, जनजागृति सेवा समिति के अध्यक्ष रामस्वरूपसिंह दांगी टैंकू, यशवंतसिंह चौहान, नथनसिंह चौहान भौंरासा सहित अनेक ग्रामीणों ने प्रशासनिक अधिकारियों से आवश्यक सुविधाएं मुहैया करवाने की मांग की है।

पुस्तक यात्रा 18 को विदिशा में

विदिशा। भोपाल की चर्चित वनमाली सृजन पीठ इस बार साक्षरता दिवस पर पुस्तक यात्रा निकाल रही है। यह यात्रा प्रदेश के विभिन्ना शहरों से होते हुए 18 सितंबर को विदिशा भी आएगी। रवीन्? नाथ टैगोर विश्वविद्यालय से संबंध ये पुस्तक वाहन नगर के शासकीय उच्चतर माध्यमिक उत्कृष्ट वि?द्यालय में पहुंच कर संस्कृति और सभ्यता के अलावा विज्ञान की किताबों की प्रदर्शनी दिखाएगा। यहां प्राचार्य चारु सक्सेना एवं शहर के गणमान्य पुस्तक वाहन का भव्य स्वागत करेंगे। इस अवसर पर छात्रों के बीच एक क्विज होगी और पुरस्कार वितरण किया जाएगा॥ भोपाल की कहानीकार संतोष श्रीवास्तव, जया केतकी, मधु सक्सेना और अनिता चौहान का रचना पाठ और अन्य गतिविधियां होंगी। वनमाली सृजन केंद्र की विदिशा इकाई के सचिव हरगोविंद मैथिल ने बताया कियह पुस्तक वाहन सम्राट अशोक अभियांत्रिकी महावि?ालय में भी पहुंच कर प्रर्दशनी लगाएगा।

बाढ़ पीड़ितों की मदद की

विदिशा। लायंस क्लब आर्य ने बाड़ पीड़ित लोगों की मदद की। शक्रवार कृष्णागोपाल गौशाला मुक्ति धाम में रह रहे बाढ़ पीड़ित लोगों की महिलाओं को साड़ी, बर्तन, बच्चों को कपड़े, खिलौने एवं कम्मल आदि वितरित किए। प्रभावितों को डेली खाने की सुविधा भी दी जा रही है इस गतिविधि में लायन अध्यक्ष सुषमा बिरथरे, अनामिका पचौरी, ऋतु देवलिया, स्वेता देवलिया, शशि चौबे, उर्मिला तिवारी, उमा सोनी उपस्थित रहीं।