गंजबासौदा(नवदुनिया न्यूज)। पिछले कई सालों से शहर में 25 दिसंबर से 13 जनवरी तक रामलीला मेले का आयोजन किया जाता था लेकिन इस साल कोरोना संक्रमण के चलते रामलीला मेले का आयोजन नहीं हो सका। जिससे मेले में दुकान लगाने वाले, झूला लगाकार अपने परिवार का पेट भरने वाले कई व्यापारियों को निराशा हाथ लगी है। जबकि स्थानीय व्यापारियों ने स्थानीय प्रशासन को रामलीला मेला लगाए जाने की मांग को लेकर ज्ञापन भी दिया था लेकिन प्रशासन ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया।

मेले में दुकान लगाने वाले जावेद खां का कहना है वे हमेशा ही जिले व उसके आस पास लगने वाले मेले में कंगन,गर्म कपड़े, बर्तन की दुकान लगाते है। मार्च महीने से कोरोना के कारण पूरे साल किसी भी जगह मेले का आयोजन नहीं किया गया। वहीं उन्हें और उनके कई साथियों को उम्मीद थी की इस साल तो मेले लगेंगे लेकिन प्रशासन ने मेला आयोजन की परमिशन नहीं दी। जबकि लोगों की मांग पर विदिशा में रामलीला मेले का आयोजन किया जा रहा है। यदि प्रशासन चाहता तो कम दिनों के लिए मेले लगाए जाने की अनुमति दे सकता था। लेकिन ऐसा नहीं किया गया। प्रशासन के कारण पहलीबार ऐसा हुआ की गंजबासौदा में मेले का आयोजन नहीं किया गया।

000000000000000000

रंगमंच के कलाकार का निधन

पठारी-फोटो13

पठारी- कामता प्रसाद रिछारिया।

पठारी(नवदुनिया न्यूज)। रंगमंच पर विभिन्ना्‌ संजीदा अभिनय करने वाले दादा कामता प्रसाद रिछारिया का 85 वर्ष की आयु में निधन हो गया। जिनकी अंतिम यात्रा में नगर क्षेत्र के हजारों लोग शामिल हुए। दादा कामता प्रसाद रिछारिया ने 70 और 80 के दशक में जय अंबे ड्रामा पार्टी, सत्यम शिवम सुंदरम ड्रामा पार्टी और शकुंतला ड्रामा पार्टी में धार्मिक सामाजिक राष्ट्रीय और कई महत्वपूर्ण पात्रों का संजीदा अभिनय किया। दादा कामता प्रसाद रिछारिया कांग्रेस पार्टी के कई महत्वपूर्ण पदों पर आसीन रहे। प्राथमिक कृषि समिति में लंबे समय तक डायरेक्टर रहे। पठारी ग्राम पंचायत में लंबे समय तक पंच पद पर आसीन रहे। नगर व क्षेत्र में सामाजिक एवं धार्मिक गतिविधियों में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते थे। जिनके पुत्रों में जनपद सदस्य एवं हिंदू उत्सव समिति अध्यक्ष राजेश रिछारिया,राकेश रिछारिया और प्राचार्य प्रकाश नारायण रिछारिया हैं। जिनकी अंतिम यात्रा में श्रद्धांजलि देने के लिए जनप्रतिनिधि,नेता,अधिकारी,कर्मचारी,किसान,व्यापारी,सहित हजारों नागरिक शामिल हुए।

00000000000000

मां वैत्रवती को चुनरी भेंट कर मनाई मकर संक्रांति

क्रॉसर-इस साल नहीं लग सका मेला,लेकिन आस्था पर्व पर उमड़े श्रद्धालु

गंजबासौदा। फोटो12

गंजबासौदा। बेतवा नदी के तट पर मां वैत्रवती को चुनरी भेंट करते श्रद्धालु व आयोजक।

गंजबासौदा(नवदुनिया न्यूज)। मकर संक्रांति पर्व के मौके पर हर साल होने वाला चुनरी महोत्सव वह मेले के आयोजन पर इस साल कोरोना की गाइड लाइन का असर हुआ है। सार्वजनिक रूप से बड़े आयोजन को नहीं किया गया लेकिन व्यक्तिगत श्रद्धा को लेकर सैकड़ों श्रद्धालुओं ने सुबह से रिपटा घाट पर मां वैत्रवती में पुण्य स्नान किया। वहीं शाम के समय चुनरी भेंट और दीपदान का कार्यक्रम पूरी आस्था के साथ मनाया गया। जिसमें साधु संतों के साथ राजनीतिक एवं सामाजिक क्षेत्रों के गणमान्यों ने पहुंचकर मां वैत्रवती की पूजन आरती में भाग लिया।

मालूम हो कि हर साल आयोजक अरविंद अवस्थी के नेतृत्व में मां वैत्रवती पर्व समिति द्वारा शहर में लगभग 51 फीट की चुनरी यात्रा निकालकर मां वैत्रवती को भेंट की जाती रही है। लेकिन इस साल आयोजन को छोटे रूप में मनाया गयाए श्रद्धालुओं से अपने घर से चुनरी और दीपदान के लिए सामान लाने का आह्वान किया था। समिति द्वारा मां वैत्रवती के लिए चुनरी भेंट की गई। वहीं श्रद्धालुओं द्वारा दीपदान कर मकर संक्रांति का पर्व मनायाए इस मौके पर श्रद्धालु अपने घरों से तिल गुड़ के मिष्ठान बनाकर मां वैत्रवती को भेंट करने पहुंचे और सामुहिक प्रसादी का वितरण कर आस्था प्रकट की। इस मौके पर नौलखी धाम,गंज वाले हनुमान मंदिर सहित अन्य स्थानों से संतों ने पहुंचकर पूजन में भाग लिया। वही विधायक लीना जैन,समाजसेवी राजेश माथुर,समाजसेवी सुनील बाबू पिंगले,विशाल वैष्णव,ओपी चौरसिया,सुरेश तनवानी सहित सैकड़ों लोग ने सामुहिक रूप से मां वैत्रवती का पूजन कर चुनरी भेंट की एवं दीपदान किया।

नदी घाट पर सुबह से लगा भक्तों का तांता

मकर संक्रांति पर्व के मौके पर जहां पूरे दिन शहर की सड़कों पर सन्नााटे जैसी स्थिति रही,वहीं मंदिरों में धार्मिक आयोजन किए गएए साथ ही लोगों ने घर पर स्थान कर भगवान सूर्य और भगवान भोले नाथ की आराधना की। पंडित अरूण चौबे के अनुसार मकर संक्रांति पर्व पर सूर्य दक्षिणायन से उत्त्ररायण होकर मकर राशि में प्रवेश करते है। मौसम में अब बदलाव होगा,प्रकृति में सौन्दर्य घुलना शुरू हो जाएगा। वहीं गुरूवार को मकर संक्राति पर्व पर सुबह पांच बजे से वैत्रवती के रिपटा घाटए नौलखी घाट पर स्नान करने पहुंचे और पुण्य स्नान का लाभ लिया। नदी घाटों पर सुबह से देर शाम तक श्रद्धालुओं की उपस्थित देखी गई। वहीं शहर और अंचल से कई लोगों ने नर्मदा नदी में स्नान के लिए होशंगाबाद की यात्रा की वहीं कई ग्रामीण हरिद्वार कुंभ के लिए भी रवाना हुए।

0000000000

ग्रामीणों से रूबरू हुए विधायक, सुनी समस्याएं

रोजरू। फोटो11

रोजरू। कुरवाई विधायक के साथ भाजपा नेता।

रोजरू(नवदुनिया न्यूज)। कुरवाई विधायक अपने क्षेत्र रोजरू और बीलाढाना ग्रामों के दौरे पर पहुंचे इस मौके पर ग्रामीणों ने विधायक का स्वागत करते हुए ग्रामीण क्षेत्रों की समस्याओं से विधायक को अवगत कराया। इस मौके पर विधायक ने ग्रामों के बीच बन रही सड़क की गुणवत्ता की जांच करते हुए ठेकेदार से बात कर गुणवत्ता रखने के निर्देश दिए। इस मौके पर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य मिर्जा हबीब बेग उर्फ मुन्ना्‌ा भैया, सुशील खरे बीलाडाना,पूर्व जनपद सदस्य बिशन सिंह परिहार, करोड़ी लाल साहू, खलील बैग, मोहनलाल परिहार, पप्पू परिहार, मनोज श्रीवास्तव सहित ग्रामीणों ने उपस्थिति होकर विधायक का स्वागत किया एवं विधायक के समक्ष ग्राम में कई अन्य समस्याओं को रखाए जिसे विधायक ने समस्याओं को हल करने का आश्वसन दिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस