गंजबासौदा(नवदुनिया न्यूज)। इस समय किसान रबी फसल की तैयारियों में जुटे हुए हैं इसलिए किसान समय से पहले ही अपनी जरूरत का डीएपी खाद लेने के लिए सरकारी गोदामों पर पहुंच रहे हैं। लेकिन गुरुवार को त्योंदा रोड स्थित सरकारी खाद वितरण केंद्र पर कर्मचारियों द्वारा खाद वितरण नहीं किए जाने से नाराज किसानों ने करीब आधे घंटे तक सड़क पर वाहन खड़े कर जमीन पर बैठकर चक्का जाम किया। जानकारी मिलते ही तहसीलदार कमल सिंह मंडेलिया और नायब तहसीलदार दोजी राम अहिरवार मौकेपर पहुंचे और किसानों को आश्वासन दिया कि आज ही आप लोगों को खाद का वितरण किया जाएगा। इसके बाद किसानों ने चक्का जाम खत्म किया और जिन किसानों के दस्तावेज जमा थे उन किसानों को डीएपी खाद का वितरण कराया गया।

त्योंदा रोड स्थित सरकारी खाद वितरण केंद्र पर गुरुवार की सुबह करीब 40 से 50 किसान अपनी जरूरत के लिए डीएपी खाद लेने के लिए गोदाम पहुंचे लेकिन कर्मचारी 11 बजे के बाद आए। किसान संबंधित कर्मचारी से खाद लेने पहुंचे तो उनका कहना था कि खाद शनिवार को मिलेगी अभी ट्रक नहीं आया। इस पर गोदाम पर मौजूद किसानों ने कहा कि परिसर में खाद की बोरियों से भरा ट्रक खड़ा है फिर हम लोगों को शनिवार को आने का क्यों कह रहे हो। इस बात पर किसानों और गोदाम पर मौजूद कर्मचारियों के बीच काफी बहस हुई और किसान नाराज होकर गोदाम के बाहर त्योंदा रोड पर जाकर बैठ गए और खाद वितरण नहीं किए जाने के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे।

इसकी जानकारी मिलते ही तहसीलदार कमल सिंह मंडेलिया और नायब तहसीलदार दोजी राम अहिरवार मौके पर पहुंचे। उनके आश्वासन के बाद किसानों ने जाम खत्म किया और किसानों को खाद मिलना शुरु हुई।

इसलिए नाराज थे किसान

गोदाम पर मौजूद जसाखेड़ी निवासी हरिनारायण पंथी और डफरियाइ के दीपक रघुवंशी ने बताया कि हम लोगों ने डीएपी खाद के लिए बुधवार को कागज जमा किए थे और गुरुवार को खाद लेने को कहा था। लेकिन जैसे ही आज हम खाद लेने आए तो कर्मचारियों ने खाद देने से मना कर दिया। उनका कहना था कि खाद अभी नहीं आई है,जबकि परिसर में एक ट्रक खाद मौजूद थी। पूछने पर बताया कि यह ट्रक पबई के लिए आया हुआ है। इस बात से नाराज किसानों ने चक्काजाम कर दिया। दीपक रघुवंशी ने बताया कि उनके पास 60 बीघा जमीन है जिसके लिए उन्हें करीब 40 बोरी डीएपी खाद लगता है। आज केवल 30 बीघा के लिए 14 बोरी खाद मिला है,गोदाम से 5 बीघा पर 3 बोरी खाद दिया जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local